(सावधान) हल्द्वानी- घर बैठे सैन्य कर्मी के बैंक खाते में बदमाशों ने डाला डाका, इस नई तरकीब से ऐसे खोल दिया एटीएम कोड!

74

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: साईबर ठगी का एक गंभीर मामला प्रकाश में आया है। यहां ठगों द्वारा एक सैन्य कर्मी के खाते से कई बारी में 60 हजार रुपए निकाल लिए गए। घटना की जानकारी सैन्य कर्मी को मोबाइल पर आये मैसेज के जरिए प्राप्त हुई। बैंक से जानकारी लेने पर पता चला कि यह रकम गाजियाबाद से निकली गई है। सैन्य कर्मी ने हल्द्वानी कोतवाली में घटना की शिकायत की है। मामले में पुलिस तहकीकात जारी है।

एटीएम क्लोनिंग से रुपये निकलने का जताया शक

मिलेट्री इंजीनियरिंग सर्विस में जनरेटर/पम्प ऑपरेटर में तैनात भुवन चंद्र जोशी का एसबीआई में एकाउंट है। सैन्य परिसर में रहने वाले भुवन ने बताया कि उनके खाते से 13 अप्रैल की शाम पौने सात बजे पहले 20 हजार रुपये निकल गए। कुछ देर बाद ही किसी बसंती देवी के नाम के एकाउंट में 20 हजार रुपए ट्रांसफर हो गए। 14 अप्रैल की सुबह भी खाते से 10-10 कर दो बार मे 20 हजार रुपये निकल गए। इसकी जानकारी उन्हें मोबाइल पर आए मैसेज से हुई। उन्होंने बैंक जाकर पता किया तो रुपये गाजियाबाद से निकलने की जानकारी मिली। भुवन ने बताया कि उन्होंने खाते से संबंधित कोई गोपनीय जानकारी किसी से साझा नहीं की थी। उनकी तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। वही मामले में पुलिस एटीएम क्लोनिंग से रुपये निकलने का शक जता रही है।

क्या होता है एटीएम क्लोनिंग

अगर आप किसी भी लेनदेन या जरूरत पड़ने पर एटीएम मशीन से रुपए निकाल रहे है। तो जरा सावधानी से अपने कार्ट का इस्तेमाल करें। कहीं रूपये निकालने की जल्दबाजी में आप के एटीएम या क्रेडिट कार्ड का क्लोन न बन जाए। दरअसल पिछले कुथ समय से कार्ड क्लोनिंग के मामले लगातार सामने आ रहे है। ठग बहुत ही टेक्निकल तरीके से आपके कार्ड की जानकारी लेकर मिनटों में क्लोन कार्ड तैयार करते है। इस क्लोन से ठग लाखों रूपये का चूना लगा देते है। पीड़ित को इसका पता खाते से रुपये निकलने के बाद लगता है।

साइबर ठग बहुत ही खुफिया तरीके से एटीएम और क्रेडिट कार्य का क्लोन करते है। इसके लिए वह स्कीमर मशीन का इस्तेमाल करते है। स्कीमर मशीन में कार्ड के स्वाइप करते ही आपके कार्ड की सारी डिटेव इस मशीन में कॉपी हो जाती है। इसके बाद आरोपी कंप्यूटर या अन्य तरीकों ये इस डेटा को एक खाली कार्ड में डालकर क्लोन तैयार करते है। ठग इस क्लोन का इस्तेमाल कर दूर दराज के इलाकों से आपके खाते से लाखों रुपये निकालने का काम करते है।