iimt haldwani

रुड़की- जब अपने ही मालिक का नौकरों ने कर दिया ये हाल, जानकर आप भी रह जाएंगे दंग

188

रुड़की- न्यूज टुडे नेटवर्क: सुनार की दुकान से लाखों रुपये के जेवरात चोरी करने के आरोप में पिता-पुत्र सहित चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों से पुलिस ने पांच लाख के जेवरात और 1400 रुपये की नगदी बरामद की है। पकड़े गए आरोपियों में एक नाबालिग है। मामले में पीड़ित दुकान स्वामी ने बताया कि करीब एक साल पूर्व उनकी दुकान में आग लग गई थी। आग लगने से लाखों रुपये के जेवरात जलकर खाक हो गए थे। इसके बाद दुकान को नये सिरे से शुरू किया गया था। पीड़ित ने पुलिस को बताया कि नुकसान हुए सामान की लिस्ट बनाई हुई थी। जेवरातों का मिलान किया गया तो करीब पांच लाख के सोने के जेवरात गायब मिले। दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरों की जांच करने पर भी जेवरात चोरी करने वाले आरोपी के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई।

amarpali haldwani

चोरी कर गिरवी रखे जेवरात

लेकिन पीड़ित ने अपने कर्मचारी पर जेवरात चोरी करने का शक जताया था। तहरीर के आधार पर पुलिस ने अज्ञात में केस दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी थी। पुलिस को देर रात सूचना मिली की जेवरात चोरी करने वाला आरोपी साईं मंदिर के पास खड़ा है।सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को पकड़कर कोतवाली ले आई। पूछताछ में पकड़े गए नाबालिग आरोपी ने बताया कि उसने अपने साथी के साथ मिलकर दुकान से जेवरात चोरी किए हैं। जिसके बाद पुलिस ने पकड़े गए नाबालिग से मिली जानकारी पर उसके साथी को बोट क्लब से गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि उन्होंने जेवरातों को पश्चिमी अंबर तालाब निवासी सुनार के यहां गिरवी रखा है। जेवरातों से मिली रकम चार लोगों में बांटी गई। इसके बाद पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा कर दिया। इंस्पेक्टर अमरजीत सिंह ने बताया कि जेवरात चोरी करने के आरोप में नाबालिग के अलावा पाड़ली गुर्जर निवासी सोनू और ईश्वर, थिथौला मंगलौर निवासी महिला राधा को पकड़ा है। आरोपियों के कब्जे से आठ सोने की चेन, एक सोने की अंगूठी और 1400 रुपये बरामद किए हैं। उन्होंने बताया कि आरोपियों को पकड़ने वाली टीम में उपनिरीक्षक अंकुर शर्मा, विपिन, प्रवीण, निर्मल और नीता चौहान शामिल रही।