COVID-19: पानी को उबालकर पीने से पहले जान लें यह बात, वरना पड़ सकता है मंहगा

डॉक्टर अक्सर लोगों को संक्रमण (Infection) से बचने के लिए पानी उबालकर पीने की सलाह देते हैं। पर क्या आपको यह जानकारी है पानी को कई बार उबालकर पीने से सेहत बनने की जगह बिगड़ भी सकती है। यह जानकर कई लोगों को हैरानी हो सकती है परंतु यह सच है। बार-बार उबालने से पानी में मौजूद पोषक तत्त्व खत्म हो जाते हैं और उसमें नाइट्रेट, आर्सेनिक और फ्लूराइड (Nitrate, Arsenic and Fluoride) की मात्रा भी बढ़ जाती है। जो शरीर के लिए नुकसानदायक होते हैं।
boiled water
पानी को एक उबालने से मिनरल की मात्रा ठीक होती है।  ठंडा होने पर पानी में सभी लवण भी ठीक हो जाते हैं। यदि अगर उसी पानी को फिर से गर्म किया जाए तो उसमें दोबारा केमिकल रिएक्शन (Chemical reaction) होते हैं और सब कुछ असंतुलित होकर कम ज्यादा हो जाता है। पानी को गर्म करने पर उसमें नाइट्रेट एक्सपोज (Nitrate exposure) हो जाता है। परंतु बार-बार बोलने पर वह टॉक्सिक (Toxic) में बदल जाता है। अधिक तापमान पर नाइट्रेट नाइट्रोसामाइन में और कारसिनोजेनिक में परिवर्तित हो जाता है। जिससे कई प्रकार के कैंसर, हार्टअटैक व मस्तिष्क संबंधी रोग हो सकते हैं। पानी को पूरी तरह कीटाणु नाशक बनाने के लिए उसे कम से कम 20 मिनट तक उबालना चाहिए।

यहाँ भी पढ़े

Lockdown: अब श्रमिक स्पेशल ट्रेन में एक बार में इतने श्रमिक कर सकेंगे यात्रा 

CBSE BOARD RESULT 2020: परीक्षक घरों में ही जाचेंगे बोर्ड की कॉपियां, मानव संसाधन मंत्रालय ने दी अनुमति

उत्तराखंड की बड़ी खबरें