Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश Covid-19: खुसखबरी! 73 दिन बाद भारत को मिल सकती है वैक्सीन

Covid-19: खुसखबरी! 73 दिन बाद भारत को मिल सकती है वैक्सीन

Bhagat Singh jayanti: शहीद-ए-आजम की जयंती पर अमित शाह ने किया यह ट्वीट

शहीद-ए-आजम भगत सिंह (Shahid Bhagat Singh) भारत वासियों के दिल में बसते हैं। देश की आजादी के लिए उनके योगदान को भुलाया नहीं जा...

Unlock-5: आज जारी हो सकती हैं अनलॉक-5 की गाइडलाइंस, मिल सकती हैं ये छूट

कोरोना वायरस महामारी (coronavirus pandemic) को कई महीने बीत चुके हैं। लेकिन अभी तक इस वायरस की वैक्सीन नहीं बन पाई है। ऐसे में...

भारत सरकार के एक सर्वेक्षण में हुआ अहम खुलासा, देश के लगभग इतने बच्चों को है नशे की लत

भारत सरकार (Government of India) के एक सर्वेक्षण में बहुत ही अहम खुलासा हुआ है। देश में बच्चों में नशे की लत एक अहम...

एनसीबी ने दीपिका, श्रद्धा, सारा समेत इन लोगों के मोबाइल फोन किए जब्त, खंगाली जाएगी ड्रग्स चैट

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) से जुड़े ड्रग्स मामले में एनसीबी (NCB) ने शनिवार को दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और...

‘मन की बात’ कार्यक्रम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं देश को संबोधित, जानिए प्रधानमंत्री ने क्या-क्या कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज यानी रविवार को अपना 69वां मासिक रेडियो प्रोग्राम 'मन की बात' (Maan Ki Baat) करेंगे। प्रधानमंत्री का...

अब वह दिन दूर नहीं जब लोगों को कोरोना की वैक्सीन (Corona vaccine) मिल जाएगी। दुनिया भर में कोरोना की वैक्सीन को लेकर उम्मीदें बढ़ती जा रही है। इसी के बीच भारत के लिए भी एक अच्छी खबर आई है। अगर सब कुछ ठीक रहा तो 73 दिन बाद भारत को कोरोना वैक्सीन मिल जाएगी और इसे मुफ्त में लोगों के लगाना शुरू कर दिया जाएगा।
corona vaccine
ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी (Oxford University) की कोरोना वायरस वैक्सीन का निर्माण कर रहे ‘सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया’ (Serum Institute of India) के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि सरकार ने कंपनी को 58 दिन के अंदर भारत में ट्रायल (trial) खत्म करने का लक्ष्य दिया है। जिसके बाद इसे बाजार में उतार दिया जाएगा।

बता दें कि ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के जेनर इंस्टीट्यूट द्वारा बनाई गई कोरोना वैक्सीन रेस में सबसे आगे चल रही है। पिछले दिनों वैक्सीन के ट्रायल के नतीजे में पाया गया था कि वैक्सीन दोहरी सुरक्षा प्रदान करती है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने अपनी इस वैक्सीन का लाइसेंस एस्ट्राजेनेका (Astrazeneca) नामक ब्रिटिश कंपनी को दिया है, जिसने भारत और अन्य विकासशील और कम विकसित देशों के लिए वैक्सीन का निर्माण करने की जिम्मेदारी सीरम इंस्टीट्यूट को दी है। ‘कोविशील्ड’ के नाम से भारत में लॉन्च (launch) की जाने वाली इस वैक्सीन के अंतिम चरण का ट्रायल इसी शनिवार को शुरू हुआ है।
                    http://www.narayan98.co.in/
Narayan College                    https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

Related News

Bhagat Singh jayanti: शहीद-ए-आजम की जयंती पर अमित शाह ने किया यह ट्वीट

शहीद-ए-आजम भगत सिंह (Shahid Bhagat Singh) भारत वासियों के दिल में बसते हैं। देश की आजादी के लिए उनके योगदान को भुलाया नहीं जा...

Unlock-5: आज जारी हो सकती हैं अनलॉक-5 की गाइडलाइंस, मिल सकती हैं ये छूट

कोरोना वायरस महामारी (coronavirus pandemic) को कई महीने बीत चुके हैं। लेकिन अभी तक इस वायरस की वैक्सीन नहीं बन पाई है। ऐसे में...

भारत सरकार के एक सर्वेक्षण में हुआ अहम खुलासा, देश के लगभग इतने बच्चों को है नशे की लत

भारत सरकार (Government of India) के एक सर्वेक्षण में बहुत ही अहम खुलासा हुआ है। देश में बच्चों में नशे की लत एक अहम...

एनसीबी ने दीपिका, श्रद्धा, सारा समेत इन लोगों के मोबाइल फोन किए जब्त, खंगाली जाएगी ड्रग्स चैट

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) से जुड़े ड्रग्स मामले में एनसीबी (NCB) ने शनिवार को दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और...

‘मन की बात’ कार्यक्रम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं देश को संबोधित, जानिए प्रधानमंत्री ने क्या-क्या कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज यानी रविवार को अपना 69वां मासिक रेडियो प्रोग्राम 'मन की बात' (Maan Ki Baat) करेंगे। प्रधानमंत्री का...

अयोध्या में दीप महोत्सव को लेकर योगी सरकार कर रही है जोरों से तैयारी, इस बार ऐसे मनाया जाएगा दीप महोत्सव

कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के चलते दीपोत्सव (Deepotsav) को लेकर दिक्कतें सामने आ रही हैं। अधिकतम दीप प्रज्वलन की वर्चुअल प्रतियोगिता (Virtual Competition) l...