COVID-19: क्या हवा से भी फैलने लगा है कोरोना? मंत्रालयों ने ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया ये

कोरोना वायरस (coronavirus) अब दिन पर दिन पहले से ज्यादा तेज फैलता जा रहा है। जिसको लेकर सरकार के मंत्रालयों की ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस (joint press conference) की। जिसमें बताया गया कि कोरोना संक्रमण के मामले पहले जहां लगभग साढ़े 7 दिन में दोगुने होते थे, अब 4 दिन में ही मामले दोगुने आने लगे हैं। यह बड़ा बदलाव तबलीगी जमात के संक्रमण के शिकार आए लोगों के चलते हुए हैं।
joint conference meeting of ministries
कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) ने कहा कि जगह-जगह सार्वजनिक स्थानों (public places) पर थूकना कोरोना के संक्रमण की महामारी को बढ़ा सकता है। लोगों को एडवाइजरी (advisory) भी आईसीएमआर की तरफ से जारी की गई है। लोगों से अपील है कि कृपया धूम्रपान (smoking) न करें और न ही सार्वजनिक जगहों पर थूकें।

कोरोना वायरस हवा में फैलता है या नहीं यह पूछे जाने पर ICMR के डॉ. रमन गंगाखेड़कर ने बताया कि इस तरह के अभी कोई भी सबूत भारत में सामने नहीं आए हैं। सही मायने में अगर ये एयरबोर्न (airborne) होता तो एक फॅमिली (Family) में किसी को होता है तो फिर सभी को संक्रमण होता। हवा से वायरस फैलने का अभी तक कोई सबूत नहीं है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा है कि कैबिनेट सेक्रेटरी (Cabinet Secretary) ने आज बड़ी समीक्षा बैठक की है जिसमें राज्यों के स्वास्थ्य सचिवों (health secretaries) के साथ साथ जिलों के डीएम ने भी अपनी तैयारियों की जानकारी साझा की हैं। साथ ही प्रेस कांफ्रेंस में गृह मंत्रालय की तरफ से संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने बताया कि राज्यों की तरफ से लॉकडाउन (Lockdown) का पूरा पालन हो रहा है। सभी राज्यों को कृषि काम में जुड़े लोगों के लिहाज से एडवाइजरी दी गई है। इस लिहाज से प्रोटोकॉल फॉलो (follow protocol) करें कि जो जरूरी कृषि से जुड़े काम है उनको दिक्कत न हो।

यहाँ भी पढ़े

COVID-19: राशन कार्ड न होने पर भी मुफ्त में मिलेंगी खाद्य सामग्री, इन नंबरों पर करें संपर्क

उत्तराखंड की बड़ी खबरें