inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश COVID-19: कोरोना वायरस से बचाएगा इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का ये नया फार्मूला

COVID-19: कोरोना वायरस से बचाएगा इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का ये नया फार्मूला

देहरादून- सरकार के इस फैसले से उत्तराखंड पुलिस के खिल जाएंगे चेहरे, होगा ये फायदा

शासन ने उत्तराखंड पुलिस के कर्मचारियों को छठे वेतनमान की सिफारिशों के तहत उच्चीकृत वेतन ग्रेड पर एरियर की सौगात दे दी है। हाईकोर्ट...

पिथौरागढ़- भारत से पेंशन लेकर लौट रहे 5 नेपाली पेंशनरों को मिली दर्दनाक मौत, ऐसे हुआ पूरा हादसा

भारत से पेंशन लेकर जा रहे नेपाली पेंशनरों की एक जीप नेपाल में झूलाघाट से करीब सात किमी दूर सड़क से पलटकर डेढ़ सौ...

उत्तराखंड- सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने षडयंत्रकारियों को ऐसे किया चारों खाने चित, पैने चार साल की रही बेमिसाल परफार्मेंस

बीते तकरीबन पौने चार साल की परफार्मेंस से उत्तराखंड में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपनी कार्यशैली से सरकार और संगठन के अलावा केंद्र...

देहरादून- उत्तराखंड में कोरोना का आकड़ा बढ़कर पहुंचा इतना , आज 11 लोगों ने गवाईं जान

उत्तराखंड में आज 528 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में आंकड़ा बढ़कर 72160 हो गया है। जबकि 11 लोगों की...

शौंचालय निर्माण में नहीं हो रहा मानक कै अनुरुप सामग्री का प्रयोग

पीलीभीतःशौचालय निर्माण में मानक के अनुरुप सामग्री  प्रयोग नहीं किए जाने से ग्रामीणों  में काफी रोष है ।थाना हजारा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम शास्त्री...

देश में लगे लॉकडाउन (Lockdown) का एक जून से खुलने के आसार नजर आ रहे हैं। इसीलिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (Indian Medical Association) ने कोरोना वायरस (Corona Virus) से बचने के लिए एसएमएस फार्मूला (SMS Formula) अपनाने का सुझाव दिया है। कोरोना का संकट अभी टला नहीं है। लॉकडाउन खोलने के बाद भी हमें बीमारी से बचकर रहना होगा और अपने जरूरी कार्य भी करने होंगे। ऐसे में यह फार्मूला नियमों (Rules) का पालन करने में मदद करेगा।
Indian Medicl AssociationS – एस मतलब है सैनिटाइजेशन। यानी हमें हाथों को दिन में कम से कम 10 बार धोना है। किसी वस्तु को छूने के बाद हाथ को अवश्य धोना है। हाथों को सैनिटाइजर करें या साबुन या हैंडवाश से कम से कम 10 सेकंड तक धोएं। ऐसा करने से वायरस का खतरा एक तिहाई कम हो जाता है। यह शोध में साबित हो चुका है।

M – एम का मतलब मास्क से है। यानी संक्रमण से खुद को बचाने के लिए मास्क का प्रयोग करें। कोरोना से लड़ने में मास्क एक बहुत बड़ा हथियार है। मास्क से किसी भी तरह की परेशानी हो रही है तो मुंह व नाक को रूमाल, गमछे या स्टोल आदि से ढके।

S – तीसरे एस का तात्पर्य सोशल डिस्टेंसिंग से है। यानी बाजार, दुकान, ऑफिस आदि किसी भी जगह पर जाने पर लोगों से कम से कम एक से डेढ़ मीटर की दूरी बनाकर रखें। सोशल डिस्टेंसिंग करके कोरोना संक्रमण से बच सकते हैं।

Related News

देहरादून- सरकार के इस फैसले से उत्तराखंड पुलिस के खिल जाएंगे चेहरे, होगा ये फायदा

शासन ने उत्तराखंड पुलिस के कर्मचारियों को छठे वेतनमान की सिफारिशों के तहत उच्चीकृत वेतन ग्रेड पर एरियर की सौगात दे दी है। हाईकोर्ट...

पिथौरागढ़- भारत से पेंशन लेकर लौट रहे 5 नेपाली पेंशनरों को मिली दर्दनाक मौत, ऐसे हुआ पूरा हादसा

भारत से पेंशन लेकर जा रहे नेपाली पेंशनरों की एक जीप नेपाल में झूलाघाट से करीब सात किमी दूर सड़क से पलटकर डेढ़ सौ...

उत्तराखंड- सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने षडयंत्रकारियों को ऐसे किया चारों खाने चित, पैने चार साल की रही बेमिसाल परफार्मेंस

बीते तकरीबन पौने चार साल की परफार्मेंस से उत्तराखंड में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपनी कार्यशैली से सरकार और संगठन के अलावा केंद्र...

देहरादून- उत्तराखंड में कोरोना का आकड़ा बढ़कर पहुंचा इतना , आज 11 लोगों ने गवाईं जान

उत्तराखंड में आज 528 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में आंकड़ा बढ़कर 72160 हो गया है। जबकि 11 लोगों की...

शौंचालय निर्माण में नहीं हो रहा मानक कै अनुरुप सामग्री का प्रयोग

पीलीभीतःशौचालय निर्माण में मानक के अनुरुप सामग्री  प्रयोग नहीं किए जाने से ग्रामीणों  में काफी रोष है ।थाना हजारा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम शास्त्री...

ऑल इंडिया कल्चर एसोसिएशन द्वारा बैठक का आयोजन

बरेली l कौमी एकता सप्ताह छठा दिन 24 नवम्बर आल इण्डिया कल्चरल एसोसिएशन ( ऐका ) बरेली द्वारा मनाये जा रहे कौमी एकता सप्ताह...