COVID-19: कोरोना पॉजिटिव मरीजों की देखभाल करेंगे रोबोट, जानिये कैसे

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Ministry of Health) के अनुसार उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 24 मामले दर्ज किए गए हैं जिनमें एक विदेशी नागरिक (Foreigner) है। जबकि पूरे भारत भर में आज सुबह तक ऐसे 258 मामले दर्ज किए गए हैं।
robotविश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (World Health Organization) के कोरोना को इंसानों से इंसानों में फैलने वाला वायरस बताया है। तेजी से फैलते कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण को कम करने और डॉक्टरों एवं मेडिकल स्टाफ (Doctors & Medical Staff) को इस वायरस से बचाने के लिए नोएडा (Noida) के अस्पताल में रोबोट (Robot) का इस्तेमाल होते हुए देखा जा सकेगा।

उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना से संक्रमित मरीजों की देखभाल के लिए नोएडा का फेलिक्स अस्पताल (Felix Hospital) को तीन रोबोट देगी। यह रोबोट कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों (Infected Patient) की सेवा में काम करेंगे। इन रोबोट का काम संक्रमित मरीजों को खाना और अन्य सामान (Foof & Other Things) देना आदि होगा। इससे मरीज के संपर्क (Contact) में कम लोग ही रहेंगे और कोरोना से बच सकेंगे।

ravi sir
न्‍युज टूडे नेटवर्क द्वारा जनहित में जारी
उत्तराखंड की बड़ी खबरें