COVID-19: एंटीबॉडी और इम्यूनिटी ठीक होने वाले लोगों में नहीं फैलता है कोरोना‌ का संक्रमण

पूरे देश में कोरोना वायरस (Corona Virus) दिन प्रतिदिन फैलता जा रहा है। लेकिन यह जरूरी नहीं है कि कोरोना संक्रमित (Corona Infected) के संपर्क में आते ही आप कोरोना के शिकार हो जाए। क्योंकि हमारे शरीर में वायरस आते ही शरीर में उपस्थित एंटीबॉडी (Antibodies) उस वायरस से लड़ने के लिए तैयार हो जाते हैं। जिनके एंटीबॉडी ठीक होते हैं वह कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने पर भी बीमार नहीं होते हैं।
research on antibodiesएंटीबॉडी और इम्यूनिटी (Antibodies & Immunity) किसी भी वायरस बीमारी से हमारे शरीर की सुरक्षा करती है। किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय, राममनोहर लोहिया और संजय गांधी पीजीआई एंटीबॉडी जांच शुरू करने की कोशिश में लगे हैं। आईसीएमआर (ICMR) भी इसके लिए प्रयास कर रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि इम्यूनिटी पासपोर्ट को लेकर शोध जारी है। विशेषज्ञों का कहना है कि एंटीबॉडी बनने के बाद 80 से 90 प्रतिशत लोगों में संक्रमण की आशंका नहीं होगी। वे काम पर जा सकते हैं लेकिन सतर्कता जरूरी रहेगी।

यहाँ भी पढ़े

LOCKDOWN: परिवहन निगम ने शुरू की बस यात्रा की तैयारी, जानें किन जिलों में जाएंगी बसें

BAREILLY: पुलिस को रौंदते हुए निकल गई डीसीएम, दुर्घटना में हेड कांस्टेबल की मौत इंस्पेक्टर घायल

उत्तराखंड की बड़ी खबरें