inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश क्रिसमस पर्व: इस बार नहीं होगा मेलों का आयोजन, पंजीकरण से मिलेगा...

क्रिसमस पर्व: इस बार नहीं होगा मेलों का आयोजन, पंजीकरण से मिलेगा चर्च में प्रवेश, देखें पूरी खबर…

न्यूज टुडे नेटवर्क। क्रिसमस पर्व की तैयारियां जोरों पर हैं। हालांकि कोरोना संक्रमण के कारण इस बार चर्च और बाजारों में पहले जैसी रौनक नहीं है। क्रिसमस पर्व के उपलक्ष्‍य में मसीही समाज में सप्‍ताह भर पहले से तैयारियां और परंपरागत गीतों आदि के गाए जाने का सिलसिला शुरू हो जाता है। मसीही समाज पर्व क्रिसमस की खुशियों में सराबोर होने की तैयारियों में जुट गया है। शहर के प्रमुख गिरजाघरों को सजाया जा रहा है और क्रिसमस की तैयारियां जोरशोर से चल रही हैं। घर में क्रिसमस ट्री और सौभाग्य का प्रतीक स्टार लगाया जा रहा है।

इस पर्व पर केक का विशेष महत्व है। बेकरी की दुकानों पर ऑर्डर दिए जा रहे हैं और घरों में भी केक बनाया जा रहा है। क्रिसमस पर्व का उल्लास करीब एक माह पहले ही शुरू हो गया है। गिरजाघरों में शाम को विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन किया जा रहा है। मसीही लोगों ने घरों में खुशियों के इस त्योहार को मनाने की तैयारी शुरू कर दी है। घरों की साफ-सफाई के साथ क्रिसमस ट्री लगाया जा रहा है।

क्रिसमस की रौनक इस बार फीकी ही रहेगी। चर्च में अधिक संख्‍या में लोग मौजूद नहीं रहेंगे। बाजारों में भी क्रिसमस की रौनक इस बार कम ही दिखाई दे रही है। बरेली में चर्च सजाए गए हैं, घरों में भी क्रिसमस का त्‍यौहार मनाए जाने की पूरी तैयारियां कर ली गई हैं। क्रिसमस को लेकर लोगों में उत्‍साह बरकरार है। इस बार क्रिसमस मेलों का आयेाजन भी नहीं होगा। चर्च में क्रिसमस की सुबह प्रार्थना सभा का आयोजन परंपरागत तरीके से किया जाएगा।

चर्च में प्रार्थनासभा के लिए आने वाले लोगों का पंजीकरण कराया जा रहा है। मैथोडिस्‍ट चर्च के पादरी ने बताया कि पिछले वर्ष क्रिसमस पर्व पर आम प्रार्थना सभा में लगभग बारह सौ लोग मौजूद रहे थे। कोरोना संक्रमण के कारण इस बार अधिक लोगों चर्च नहीं आ पाएंगे। अभी तक सौ लोगों ने चर्च की प्रार्थनासभा में आने का पंजीकरण कराया है। जिसमें 65 साल से अधिक और 15 साल से कम उम्र के लोगों को अनुमति नही दी गई है।

इसी तरह शहर के अन्‍य कैथोलिक और मैथोडिस्‍ट चर्चों में भी आम प्रार्थना सभा का आयोजन तो परंपरागत रूप से होगा, लेकिन हर साल की तरह अधिक लोग जमा नहीं हो सकेंगे। उधर बाजारों में भी क्रिसमस को लेकर रौनक ना के बराबर है। हालांकि तमाम दुकानदारों और ब्रांडेड शोरूम ने क्रिसमस आफर और क्रिसमस की खास चीजों की बिक्री के लिए स्‍टाल सजाए हैं।

क्रांति का गवाह रहा फ्रिविल बैप्टिस्ट चर्च

बरेली क्लब के सामने है क्रांति का गवाह फ्रिविल बैप्टिस्ट चर्च। जहां आज भी उस दौर की निशानी मौजूद है। बेहद भव्य और आकर्षक यह चर्च मसीही समाज की आस्था का केंद्र है। यहां क्रिसमस की तैयारी जोरों पर चल रही है। चर्च की सफाई के साथ ही परिसर में मौजूद मूर्तियों को भी सजाया-संवारा जा रहा है। कैंट इलाके में इस चर्च का निर्माण 1838 में हुआ था। प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के समय 1857 में 31 मई को क्रांतिकारियों ने इस चर्च में आग लगा दी थी और कुछ समय के लिए यह गिरजाघर खंडहर की शक्ल में बदल गया था। उसके बाद इस चर्च में ब्रिटिश सिपाहियों को हथियारों के साथ आने की इजाजत दी गई थी। आज भी यहां की बेंच पर रायफल रखने की जगह बनी हुई है।

भव्यता के लिए प्रसिद्ध है क्राइस्ट मैथोडिस्ट चर्च

चौकी चौराहे पर बना क्राइस्ट मैथोडिस्ट चर्च अपनी उत्कृष्ट स्थापत्य कला और भव्यता के लिए पूरे रुहेलखंड में प्रसिद्ध है। यहां क्रिसमस पर मेला लगता है। यहां का आकर्षण होती हैं प्रभु यीशु मसीह के जीवन पर आधारित झांकियां। अमेरिका से आए विलियम बटलर ने इस चर्च के निर्माण की नींव डाली थी। निर्माण शुरू होने के कुछ दिन बाद ही प्रथम स्वतंत्रता संग्राम शुरू हो गया और तब काम कुछ समय के लिए रुक गया था। यहां की लाइब्रेरी में आज भी पुरानी और दुर्लभ किताबें हैं।

Related News

विधान परिषद चुनाव: मोदी के खास पूर्व IAS एके शर्मा, डिप्टी सीएम दिनेश और BJP प्रदेश अध्य‍क्ष स्वतंत्र देव समेत 10 प्रत्याशियों के होंगे...

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी विधान परिषद चुनावों के लिए आज सोमवार को भाजपा के दस प्रत्‍याशी नामांकन करने जा रहे हैं। इनमें पीएम मोदी...

यूपी: मुरादाबाद में कोरोना वैक्सीन लगने के बाद वार्ड ब्वाय की अचानक मौत पर परिजनों ने लगाया ये गंभीर आरोप…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के मुरादाबाद जिले में कोरोना का टीका लगने के एक दिन बाद ही एक बार्ड ब्‍वाय की मौत हो गई।...

अयोध्या राम मन्दिर निर्माण में योगदान के लिए फिल्म स्टार अक्षय कुमार ने किया ये काम…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। मकर संक्रान्ति पर्व के मौके पर राम अयोध्‍या में राम मन्दिर निर्माण के लिए निधि संग्रह अभियान की शुरूआत के साथ...

सीएम योगी ने कहा- केन्द्र की गाइडलाइन के अनुसार हो कोविड वैक्सीनेशन कार्य

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के वैक्सीनेशन कार्य को भारत सरकार की गाइडलाइन्स तथा क्रम के अनुरूप संचालित...

सर्दी और कोहरे के दृष्टिगत सड़क सुरक्षा के नियमों का सख्ती से पालन कराएं अफसर: सीएम योगी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सर्दी के मौसम में कोहरे आदि के दृष्टिगत अधिकारियों को सड़क सुरक्षा के नियमों...

उप्र में 22 जनवरी को शेष स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन लगाई जायेगी:सहगल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में 22 जनवरी को शेष स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इस सम्बंध में किसी भी प्रकार का भ्रम न रखें। सूचना...