inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री ने धान क्रय केन्द्रों की व्यवस्था को सुचारु बनाए रखने के...

मुख्यमंत्री ने धान क्रय केन्द्रों की व्यवस्था को सुचारु बनाए रखने के निर्देश दिए

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने धान क्रय केन्द्रों की व्यवस्था को सुचारु बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि यह सुनिश्चित किया जाए कि किसानों को धान बेचने में कोई परेशानी का सामना न करना पड़े। उन्होंने किसानों से धान की खरीद तेजी से किए जाने के निर्देश भी दिए हैं।

मुख्यमंत्री आज गुरूवार को यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिए कि मण्डलायुक्त, जिलाधिकारी तथा मुख्य विकास अधिकारी टीम बनाकर निरन्तर धान क्रय केन्द्रों का निरीक्षण सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि धान क्रय की प्रक्रिया फरवरी, 2021 तक संचालित होगी। इसके दृष्टिगत सभी प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं। उन्होंने धान क्रय प्रक्रिया में लापरवाही बरतने वालों की जवाबदेही तय कर सख्त कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘उत्तर प्रदेश कामगार और श्रमिक (सेवायोजन एवं रोजगार) आयोग’ की बैठक में लिए गए निर्णयों को पूरे प्रदेश में तत्परता से लागू किया जाए। इस सम्बन्ध में सभी जनपदों में समयबद्ध ढंग से प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। उन्होंने आयोग के निर्णयों के क्रम में सम्पादित किए जाने वाले कार्यों की रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने गो-आश्रय स्थलों की व्यवस्थाओं को सुचारु बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि गो-आश्रय स्थलों पर संरक्षित गोवंश के लिए चारे-पानी की पर्याप्त उपलब्धता बनाई रखी जाए। गोवंश को सर्दी से सुरक्षित रखने के लिए गो-आश्रय स्थलों में सभी जरूरी इन्तजाम सुनिश्चित किए जाएं।

बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज एवं ग्राम्य विकास मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डा0 रजनीश दुबे, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव पशुपालन भुवनेश कुमार, प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related News

अलीगढ़: डीएम ने बीडीओ से कहा- लड़की की शादी से पहले बन जानी चाहिए सड़क, जानिए क्या है मामला…

न्यूज टुडे नेटवर्क। अलीगढ़ डीएम को एक युवती  ने पत्र लिखा पत्र में गांव की सड़क निर्माण कराने के लिए गुहार लगाई है। लिखें...

एसएसपी से बोले सफाईकर्मी के परिजन-साहब पुलिस बेटे को फंसा रही है, जानिए क्या है पूरा मामला

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। चोरी करते हुए रंगेहाथों पकड़े जाने के बाद पब्लिक की पिटाई से युवक की मौत के मामले में पुलिस द्वारा आरोपी...

बरेली: कुतुबखाना ओवरब्रिज के विरोध में बाजार बंद कर सड़कों पर उतरे व्यापारी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। कुतुबखाना ओवरब्रिज को लेकर व्‍यापारियों का विरोध अब और तेज हो गया है। कुतुबखाना पर बनने ओवरब्रिज विरोध में शनिवार को...

26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड की घोषणा के बाद सीएम योगी ने जारी किया एलर्ट

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों के ट्रैक्‍टर परेड निकालने की घोषणा के बाद यूपी सरकार ने एलर्ट जारी कर दिया...

गोरखपुर से नि:शुल्क कोचिंग की शुरूआत, आईपीएस, आईएएस और पीसीएस करेंगे छात्रों का मार्गदर्शन

न्‍यूज टुडे नेटर्वक। सरकार ने प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए नि:शुल्‍क कोचिंग की व्‍यवस्‍था की है। यूपी में गोरखपुर से...

दिल्लीे मेरठ एक्सप्रेस वे: होली से पहले ही वेस्ट यूपी को मिल सकता है तोहफा

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। दिल्‍ली मेरठ एक्‍सप्रेस वे होली से पहले या मार्च तक शुरू होने के आसार हैं। हालांकि अभी भी एक्‍सप्रेसवे पर काफी...