iimt haldwani

छत्तीसगढ़-बोली शहीद की बेटी मुझे हथियार दो मैं खुद लूंगी अपने पिता का बदला, छलक उठी लोगों की आंखें

375

छत्तीसगढ़-न्यूज टुडे नेटवर्क-जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए सबसे बड़े आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 42 जवान शहीद हो गए। इस घटना की दुनियाभर में निंदा हो रही है। एक ओर पूरा देश इस कायराना हरकत का बदला लेने की मांग कर रही है, तो वहीं शहीद जवानों के परिवार भी गुस्से में हैं और किसी भी कीमत पर आतंकियों से प्रतिशोध चाहते हैं। आतंकी हमले में झारखंद के गुमला जिले के विजय सोरेन भी शहीद हुए हैं। विजय सोरेन की बेटी रेखा सोरेन ने कहा कि हमें हथियार दे दें, हम अपने पिता का बदला खुद ले लेंगे। इस दौरान लोगों की आंखे छलक आयी।

amarpali haldwani

शाम तक पहुंचेंगे कई राज्यों में शहीदों के पार्थिव शरीर

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुये कायराना आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों का पार्थिव शरीर आज दोपहर को उनके घरों पर भेजे जाएंगे। अधिकारियों ने आज यह जानकारी दी। हालांकि 37 शवों में से अधिकतर की पहचान कर ली गई है, उनमें से कुछ की स्थिति अत्यंत खराब होने के कारण उनकी पहचान करने में मुश्किल हो रही है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि शव उनके परिवारों को सौंप दिए जाएंगे। आतंकी हमले के मद्देनजर हालात का जायजा लेने के लिए जम्मू-कश्मीर के दौरे पर गये गृह मंत्री राजनाथ सिंह, राज्यपाल सत्य पाल मलिक, सीआरपीएफ के महानिदेशक आर आर भटनागर, शव को भेजे जाने से पहले श्रीनगर में दिवंगत आत्माओं को अंतिम श्रद्धांजलि देंगे।