inspace haldwani
Home Chhattisgarh छत्तीसगढ़- आप जो पानी पी रहे हैं, वह पानी साफ है या...

छत्तीसगढ़- आप जो पानी पी रहे हैं, वह पानी साफ है या नहीं, ऐसे करें मुफ्त जांच

बिलासपुर- क्या आपको पता है कि जो पानी आप पी रहे हैं वह पीने योग्य पानी है या नहीं, अगर नहीं पता तो उसकी जांच जरूर करा लें। क्योंकि वैज्ञानिक रूप से सत्यापित है कि 80 प्रतिशत बीमारियां प्रदूषित पेयजल के उपयोग से हो रही हैं। इसे ध्यान में रखते हुए सीएमडी कॉलेज ने लोगों की सुविधा के लिए पेयजल के नि:शुल्क जांच शुरू की है। कॉलेज में जो भी अपने घर के पानी का सैंपल लाएगा, उसकी वहां मुफ्त जांच होगी। अपने घर में आप जिस पेयजल का उपयोग कर रहे हैं, उसकी जांच करवाना चाहते हैं, तो कॉलेज में सुबह 11 से शाम 4 बजे तक सैंपल जमा कर सकते हैं।

water-

छात्र करेंगे जांच, 3 दिन में मिल जाएगी रिपार्ट

सीएमडी कॉलेज के चेयरमैन पं. संजय दुबे और प्राचार्य डॉ. संजय सिंह ने बताया कि पानी की वजह से ज्यादा लोगों की तबीयत खराब होने की जानकारी मिल रही है। इसके मद्देनजर यह सुविधा लोगों को दी जा रही है। रसायन विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. हर्षा शर्मा ने बताया कि पानी की जांच उनके विभाग में की जाएगी। इसके लिए सभी केमिकल और इंस्टूमेंट कॉलेज में उपलब्ध है। सैंपल जमा करने के 3 दिन के अंदर रिपोर्ट मिल जाएगी। अपने आस-पास के नलकूप, नगर पालिका की सप्लाई, हैंडपंप, सबमर्सिबल आदि से सप्लाई होने वाला पानी की गुणवत्ता की जांच करा सकते हैं।

water1

खराब पानी से लीवर को नुकसान

डॉ. शर्मा ने बताया कि घरों के हैंडपंप से निकलने वाले पानी की मात्रा में आयरन की मात्रा ज्यादा पाई मिल रही है। इसके कारण लोगों में लीवर के साथ ही जोड़ों के दर्द की बीमारी हो रही है। पानी में मिले हुए कीटनाशक शरीर पर दूरगामी प्रभाव डालते हैं। दूषित पेयजल से नर्वस सिस्टम और प्रजनन क्षमता तक प्रभावित हो सकती है। भूमिगत संक्रमित जल में लेड की मात्रा भी पाई जाती है। इसका सबसे ज्यादा प्रभाव बच्चों और महिलाओं पर पड़ता है। पीने योग्य पानी में कभी-कभी नाइट्रेट भी मिले होते हैं। यह फॉर्मूला दूध पीने वाले बच्चों के लिए तो प्राणघातक सिद्ध हो सकता है।

water23

क्या है कारण

आखिर क्या कारण है कि शुद्ध पानी लोगों को नसीब नहीं हो पा रही है ? आप सब ने बचपन में केमिस्ट्री की किताबों में pH के बारे में पढ़ा होगा, इससे पानी में एसिड की मात्रा कितनी है या पानी कहीं बेसिक तो नहीं, इसका पता लगाया जाता था। साफ पानी का pH कम से कम 6 से 8.2 के बीच होना चाहिए। 7 के नीचे पीएच वैल्यू आने पर वह एसिडिक और 7 के ऊपर पीएच वैल्यू आने पर बेसिक होता चला जाता है।

Related News

अनोखा विवाह: इस लड़के ने एक मंडप में की दो लड़कियों से शादी, कार्ड पर छपा तीनों का नाम

न्यूज टुडे नेटवर्क, जगदलपुर। छत्‍तीसगढ़ के बस्तर जिले में हुई एक अजब-गजब शादी काफी चर्चा में है जहां एक युवक का दो लड़कियों से ऑनलाइन इश्क...

शादी की नई गाइडलाइन से लोग परेशान, 100 से अधिक लोगों को भेजा है निमंत्रण, अब कैसे मना करें

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। गोरखपुरःएक बार फिर कोरोना संक्रमण के कारण सरकार ने कोरोना से बचाव के लिए शादी समारोह में सिर्फ 100 लोगों के...

झंडा दिवस पर पुलिसकर्मियों को दिलाई शपथ

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। एटा। पुलिस झंडा दिवस पर सोमवार को पुलिस लाइंस में कार्यक्रम आयोजित किया गया। क्वार्टर गार्द में पुलिस उपाधीक्षक रामनिवास सिंह...

छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीज जोगी का देहान्त, शोक में डूबी जनता

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीज जोगी का आज कुछ बिमारियों के कारण निधन हो गया है। जानकारी के अनुसार पुर्व मुख्यमंत्री अजीज जोगी का...

छत्तीसगढ़ सरकार का बड़ा फैसला-सभी दफ्तर 31 मार्च तक बंद

छत्तीसगढ़ सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने नावेल कोरोना वायरस के संक्रमण से रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए आगामी 31 मार्च 2020 तक अत्यावश्यक...

BSF Recruitment 2020: सेना में जाने की सोच रहे हैं तो एक बार यहां भी कर लें आवेदन

BSF Recruitment 2020: बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (बीएसएफ) ने सब इंस्पेक्टर (मास्टर, इंजन ड्राइवर और वर्कशॉप), हेड कांस्टेबल (मास्टर, इंजन ड्राइवर और वर्कशॉप) और सीटी...