inspace haldwani
Home उत्तराखंड गढ़वाल चमोली -पूरे विधि-विधान के साथ बंद हुए हेमकुंड साहिब के कपाट, इस...

चमोली -पूरे विधि-विधान के साथ बंद हुए हेमकुंड साहिब के कपाट, इस बार सिर्फ इतने दिन चली यात्रा

ऋषिकेश- ज्वैलरी शॉप से लाखों के आभूषण और नकदी गायब, सुबह शटर टूटा देख हुई खबर

ऋषिकेश- यहां श्यामपुर फाटक स्थित एक ज्वैलरी शॉप में चोरों ने ताला तोडक़र लाखों के माल साफ कर दिया। ज्वैलरी शॉप में चोरी की...

पौड़ी-पैतृक गांव घीड़ी पहुंचे एनएसए डोभाल, लिया ये बड़ा फैसला

पौड़ी- आज सुबह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल अपने पैतृक गांव घीड़ी पहुंचे। एनएसए डोभाल का गांव पहुंचने पर ग्रामीणों ने ढोल दमाऊ की...

देहरादून-फॉरेस्ट गार्ड भर्ती को लेकर अधीनस्थ सेवा चयन आयोग का बड़ा फैसला, पढिय़े पूरी खबर

देहरादून-बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर है अब उत्तराखंड वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड के 1218 पदों की भर्ती परीक्षा रद्द नहीं होगी। बोर्ड...

देहरादून-105 सरकारी कॉलेजों के छात्रों को मिलेगा फ्री वाईफाई, इस दिन से शुरू होगी सुविधा

देहरादून-प्रदेश के छात्रों के लिए अच्छी खबर है। 105 सरकारी कॉलेजों व सभी सरकारी विश्वविद्यालय के कैम्पसों में आगामी आठ नवंबर से छात्रों को...

ऋषिकेश-परमार्थ निकेतन पहुंचे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार डोभाल, किया ये खास काम

ऋषिकेश- आज सुबह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने परमार्थ निकेतन में विश्व शांति के लिए यज्ञ में आहुति डाली। जिसके बाद वह अपने...

चमोली –आज हेमकुंड साहिब के कपाट पूरे विधि-विधान के लिए शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं। इस दौरान कपाट बंद होने पर करीब 1350 सिख श्रद्धालु अंतिम अरदास के साक्षी रहे। साथ ही पवित्र तीर्थ लक्षण मंदिर-लोकपाल के कपाट भी बंद हुए हैं। दोपहर डेढ़ बजे धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए। हेमकुंड साहिब के कपाट बंद होने की प्रक्रिया आज सुबह से शुरू हो गई थी। सुबह साढ़े नौ बजे पहली अरदास हुई। इसके बाद 10 बजे सुखमणी का पाठ और 11 बजे शबद कीर्तन हुआ। दोपहर साढ़े 12 बजे इस साल की अंतिम अरदास पढने के बाद गुरू ग्रंथ साहिब को पंच प्यारों की अगुवाई में सचखंड में विराजमान किया गया और फिर कपाट पूरे विधि विधान के साथ शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए।

रानीखेत-राज्यमंत्री धनसिंह के आश्वासन पर माने छात्र, जानिये क्या है पूरा मामला
बता दें कि हेमकुंड साहिब के कपाट हर साल मई महीने में खुलते थे। इस बार कोरोना महामारी के चलते एहतियातन चार सितबर को खोले गए। इस साल 36 दिनों तक चली यात्रा में करीब 8500 श्रद्धालुओं ने हेमकंड साहिब में मत्था टेका, जबकि पिछले वर्ष 2.39 लाख से अधिक श्रद्धालु हेमकुंड साहिब पहुंचे थे। इसके लिए ट्रस्ट सभी का अभार व्यक्त करता है। बताया कि हेमकुंड साहिब पहुंचे सभी श्रद्वालुओं ने भी कोविड-19 की गाइड लाइन का पूरी तरह से पालन करते हुए ट्रस्ट को पूरा सहयोग दिया है। वहीं उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थित हिंदुओं के पवित्र तीर्थ लक्षण मंदिर-लोकपाल के कपाट भी पूरे विधि-विधान के साथ आज शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए है।

 

Related News

ऋषिकेश- ज्वैलरी शॉप से लाखों के आभूषण और नकदी गायब, सुबह शटर टूटा देख हुई खबर

ऋषिकेश- यहां श्यामपुर फाटक स्थित एक ज्वैलरी शॉप में चोरों ने ताला तोडक़र लाखों के माल साफ कर दिया। ज्वैलरी शॉप में चोरी की...

पौड़ी-पैतृक गांव घीड़ी पहुंचे एनएसए डोभाल, लिया ये बड़ा फैसला

पौड़ी- आज सुबह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल अपने पैतृक गांव घीड़ी पहुंचे। एनएसए डोभाल का गांव पहुंचने पर ग्रामीणों ने ढोल दमाऊ की...

देहरादून-फॉरेस्ट गार्ड भर्ती को लेकर अधीनस्थ सेवा चयन आयोग का बड़ा फैसला, पढिय़े पूरी खबर

देहरादून-बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर है अब उत्तराखंड वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड के 1218 पदों की भर्ती परीक्षा रद्द नहीं होगी। बोर्ड...

देहरादून-105 सरकारी कॉलेजों के छात्रों को मिलेगा फ्री वाईफाई, इस दिन से शुरू होगी सुविधा

देहरादून-प्रदेश के छात्रों के लिए अच्छी खबर है। 105 सरकारी कॉलेजों व सभी सरकारी विश्वविद्यालय के कैम्पसों में आगामी आठ नवंबर से छात्रों को...

ऋषिकेश-परमार्थ निकेतन पहुंचे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार डोभाल, किया ये खास काम

ऋषिकेश- आज सुबह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने परमार्थ निकेतन में विश्व शांति के लिए यज्ञ में आहुति डाली। जिसके बाद वह अपने...

देहरादून-मातम में बदली शादी की खुशियां, खाई में समाई बरातियों से भरी कार

देहरादून-देर रात शादी समारोह में शामिल होने कार सवारों की कार खाई में जा गिरी। जिससे पल भर में खुशियां मातम में बदल गई।...