Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश CBSE: सीबीएसई इस सत्र के पाठ्यक्रम में जोड़ेगा तीन नए विषय

CBSE: सीबीएसई इस सत्र के पाठ्यक्रम में जोड़ेगा तीन नए विषय

कंगना रनौत ने अनुराग कश्यप पर लगाए आरोप, कहीं ये बात

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Actress Kangana Ranaut) के बीच घमासान जारी है। कंगना रनौत ने अब पायल घोष मामले में अनुराग कश्यप पर निशाना...

कोरोना संक्रमण के चलते 21 सितंबर से यूपी में नहीं खुलेंगे स्कूल

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के बीच 21 सितंबर से कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों (Students) के लिए स्कूल नहीं खोले जाएंगे।...

यूपी सरकार ने शिक्षकों को दी बड़ी राहत, अंतर्जनपदीय तबादलों पर लगी रोक हटाई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अंतर्जनपदीय तबादलों (Transfer) पर लगी रोक हटा दी। बेसिक शिक्षा विभाग के अध्यापकों को इससे...

सुशांत सिंह राजपूत ने मौत से एक हफ्ते पहले निकाले थे इतने रुपये, सामने आया कैश ट्रांजैक्शन

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत हुए तीन महीने से ज्यादा का समय हो गया है। इस केस की जांच सीबीआई, ईडी...

यूपी के कई राज्यों में चलेगा एनडीडी अभियान, अभियान के तहत बच्चों को खिलाई जाएगी ये दवा

प्रदेश में हर वर्ष कृमि मुक्त अभियान (Worm Free Campaign) का आयोजन होता रहा ।है इस वर्ष कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के कारण यह...

सीबीएसई (CBSE) नए सत्र (New Season) के 11वीं के पाठ्यक्रम (Syllabus) में तीन नए कौशल विषय (Skill Subject) शुरू करने जा रहा है। बोर्ड के अनुसार नई पीढ़ी को अधिक रचनात्मक, नवीन, शारीरिक रूप से फिट बनाने, कार्यस्थल पर वैश्विक विकास और आवश्यकताओं के साथ तालमेल रखने के लिए इन विषयों की शुरुआत की जा रही है।
cbse boardयह तीन नए विषय डिजाइन-थिंकिंग (Design-Thinking), फिजिकल एक्टिविटी ट्रेनर (Physical activity trainer) और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artifical Intelligence) है। इन विषयों की शुरुआत इसी सत्र (2020-21) से की जाएंगी। बोर्ड ने स्कूलों से कक्षा 9वीं और 11वीं के छात्रों के लिए एक-एक कौशल विषय चुनने पर विचार करने को कहा था और इसकी शुरुआत इसी शैक्षणिक सत्र (Academic session) से हो रही हैं। माध्यमिक स्तर (Secondary level) पर मौजूद पांच अनिवार्य विषयों के साथ-साथ एक कौशल विषय को अतिरिक्त छठे विषय के रूप में लिया जाएं।
Cbse Board examयह होगा फायदा
सीबीएसई के अनुसार दसवीं बोर्ड का कोई भी विद्यार्थी तीन  वैकल्पिक विषय विज्ञान, गणित और सामाजिक विज्ञान में से एक विषय में फेल होता है। तो छठे विषय को मुख्य विषय मानकर दसवीं का परिणाम दिया जाएगा। और अगर कोई विद्यार्थी असफल विषय में फिर से पास होना चाहता है तो वह कंपार्टमेंट परीक्षा (Compartment exam) में शामिल हो सकता है। इसी प्रकार उच्च माध्यमिक स्तर (Upper secondary level) पर भी स्कूल एक या एक से अधिक कौशल विषय ऐच्छिक विषय (Optional subject) के रूप में ले सकते हैं।

यहाँ भी पढ़े

COVID-19: आगरा में कोरोना से बुजुर्ग महिला की जान गई, प्रदेश में चौथी मौत

Related News

कंगना रनौत ने अनुराग कश्यप पर लगाए आरोप, कहीं ये बात

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Actress Kangana Ranaut) के बीच घमासान जारी है। कंगना रनौत ने अब पायल घोष मामले में अनुराग कश्यप पर निशाना...

कोरोना संक्रमण के चलते 21 सितंबर से यूपी में नहीं खुलेंगे स्कूल

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के बीच 21 सितंबर से कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों (Students) के लिए स्कूल नहीं खोले जाएंगे।...

यूपी सरकार ने शिक्षकों को दी बड़ी राहत, अंतर्जनपदीय तबादलों पर लगी रोक हटाई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अंतर्जनपदीय तबादलों (Transfer) पर लगी रोक हटा दी। बेसिक शिक्षा विभाग के अध्यापकों को इससे...

सुशांत सिंह राजपूत ने मौत से एक हफ्ते पहले निकाले थे इतने रुपये, सामने आया कैश ट्रांजैक्शन

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत हुए तीन महीने से ज्यादा का समय हो गया है। इस केस की जांच सीबीआई, ईडी...

यूपी के कई राज्यों में चलेगा एनडीडी अभियान, अभियान के तहत बच्चों को खिलाई जाएगी ये दवा

प्रदेश में हर वर्ष कृमि मुक्त अभियान (Worm Free Campaign) का आयोजन होता रहा ।है इस वर्ष कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के कारण यह...

कोरोना महामारी के बीच आयोजित होती परीक्षाओं पर छात्रों ने सोशल मीडिया पर छेड़ी जंग, की यूपीएससी प्रीलिम्स परीक्षा स्थगित करने की मांग

देश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामले बढ़ते जा रहे हैं, लेकिन इसके बीच विभिन्न परीक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है। छात्रों...