Career: कोरोना लॉकडाउन के बाद होटल और एयरलाइंस सेक्टर में तेजी से बढ़ेंगे रोजगार, जानिए आप इस सेक्टर में कैसे बना सकते हैं अपना कॅरियर

न्यूज टुडे नेटवर्क टीम।
इस वक्त पूरी दुनिया कोरोना के कहर से जूझ रही है। मगर, वक्त जल्द बदलेगा। आहिस्ता-आहिस्ता हालात सामान्य होंगे फिर एक दौर ऐसा भी आएगा जब लोग कोरोना को भूल जाएंगे। इसलिए, यह हताशा में डूबने का नहीं, भविष्य की तैयारी करने का वक्त है। अगर आपने इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की तो आप उन क्षेत्रों को चुनिए जिनमें आने वाले वक्त में रोजगार के बेशुमार मौके हैं। हॉस्पिटलिटी और एविएशन सेक्टर ऐसे ही दो क्षेत्र हैं जहां आने वाले वक्त में रोजगार के बेशुमार मौके होंगे।
career4
कोरोना के चलते रोजगार के मौके तेजी से घट रहे हैं। मगर यहां हताश होने की आवश्यकता नहीं है अभी कुछ दिन पहले हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कहे गए कुछ शब्द आपको संजीवनी प्रदान करने वाले हैं। यह बात सच है कि हमें आपदा को अवसर में बदलना सीखना होगा। यदि आप अपने कैरियर को लेकर चिंतित हैं तो यह वैश्विक मंदी आपके लिए वरदान साबित हो सकती है। इसके बारे में हमें थोड़ा गहराई में जानना होगा। आज लगभग सभी कंपनियां अपने महंगे एंप्लाइज की छुट्टी कर रही हैं। ऐसे कर्मचारियों की भी छंटनी की जा रही है जो काम में बेहतर नहीं थे। जो पद खाली हो रहे हैं, उन्हें हालात सामान्य होते ही भरा जाएगा। इस अवसर का फायदा आप उठा सकते हैं। किसी भी क्षेत्र में एक वर्षीय कोर्स करने के उपरांत आप अपने आप को कम सैलरी पर काम करने का कंपनी के सामने विकल्प रखकर खुद को प्रस्तुत कर सकते हो। ऐसा करने पर आपको कंपनी में पैर रखने की जगह मिल जाएगी और बेहतरीन काम करके एक दो साल में बेहतरीन सैलरी भी पाई जा सकती है। क्योंकि, यह वैश्विक मंदी भारत में 2 साल से ज्यादा टिकने वाली नहीं है।

उदाहरण के तौर पर आज होटल सेक्टर एयरलाइन सेक्टर में बहुत सारे लोगों की नौकरियां चली गई या जा रही हैं। परंतु यह बहुत लंबे समय तक चलने वाला नहीं है। कुछ महीने के बाद सभी रूट पर सेवाएं शुरू होते ही फिर से बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की जरूरत होगी। सेवा के अवसर बढेंगे तो मैनपावर बढ़ाना कंपनियों की मजबूरी होगी।

ठीक ऐसा ही होटल सेक्टर में भी है। जैसे ही एयरलाइन सेक्टर का संचालन पूर्ण रूप से होने लगेगा, आने-जाने वालों को ठहरने के लिए होटल्स की आवश्यकता होगी और और वहां भी छंटनी किए गए एंप्लाइज की जगह नए लोगों को जॉब मिलेगी। क्योंकि, वह सस्ते होने के साथ-साथ खुद को प्रूफ करने के लिए अपना 100% देंगे। ऐसे में या लाइन और होटल सेक्टर आपके कैरियर के विकल्प के तौर पर बेहतर साबित होंगे। आप उसे अवसर के तौर पर देखकर इस चीज का चुनाव कर सकते हैं।
aviation industry
एविएशन इंडस्ट्री में है शानदार कॅरियर, अच्छा पैकेज
एक रिपोर्ट के अनुसार देश का एविशन सेक्टर तेजी से बढ़ रहा है और अगले कुछ सालों में यह दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा एविएशन बाजार होगा। 2016-17 में पैसेंजर ट्रैफिक करीब 27 करोड़ थे, जिनके 2020-21 तक बढ़ कर 42 करोड़ से ज्यादा होने की संभावना है। यानी अगले तीन साल में इसमें 50 फीसदी से ज्यादा इजाफे की उम्मीद है। पिछले एक वर्ष के दौरान ही पैसेंजर ट्रैफिक में 18 फीसदी से ज्यादा का इजाफा हुआ है। वहीं 2016 में सिविल एविएशन सेक्टर यात्रियों की संख्या के मामले में जापान को पीछे छोड़ते हुए भारत तीसरे स्थान पर आ गया। इसके साथ-साथ देश की टूरिज्म इंडस्ट्री के विस्तार से भी इसमें रोजगार के अवसर बढ़ने की संभावना है। इस क्षेत्र में कॅरिअर के अवसर टेक्निकल और नॉन टेक्निकल फील्ड दोनों में होते हैं। इस सेक्टर में पायलट से लेकर एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस, एयर होस्टेस और क्रू मेंबर व टिकटिंग के लिए प्रोफेशनल की जरूरत होती है। इके लिए अलग-अलग स्पेशलाइजेशन वाले प्रोफेशनल की जरूरत होती है। इनसे संबंधित कोर्स देशभर के संस्थानों में मौजूद हैं।
Hotel-Industry
यह बातें जरूर जानें
1-आप 12वीं के तुरंत बाद होटल मैनेजमेंट कर सकते हैं। यह 3 से 4 साल का कोर्स है। कुछ जगह वन इयर का कोर्स भी होता है और उसे ग्रैजुएशन के बाद कर सकते हैं। वन इयर कोर्स में भी रोजगार के भरपूर मौके हैं।
2- आप साइंस या कॉमर्स से पढ़ाई करने के बाद भी यह कोर्स कर सकते हैं। जब आप होटल मैनेजमेंट के कोर्स के एंट्रेंस के लिए बैठते हैं तो यह अलिजिबिलिटी नहीं होती कि साइंस या मैथ्स की पढ़ाई की हो, 12वीं में आए नंबर भी मायने नहीं रखते। कोई नंबर नहीं पूछता, कॉमन एंट्रेस टेस्ट और पर्सनल इंटरव्यू पास करना होता है।
3-इसके बाद अपना खुद का काम शुरू कर सकते हैं। किसी होटल में जॉब कर सकते हैं। सोशल मीडिया पर ब्लॉगर या यूट्यूबर बन सकते हैं। कहीं काम करते हुए अनुभव के आधार पर आप इंटरनैशनल ऑर्गेनाइजेशन जॉइन कर सकते हैं। इसके अलावा मीडिया में जाना चाहें तो जा सकते हैं। जैसे बड़े-बड़े शोज होते तो वहां भी शेफ की जरूरत होती है, खाने का शूट होता है, विज्ञापन जगत में जा सकते हैं।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें