drishti haldwani

बक्सर-साहब मुझे अपनी पत्नी की हत्या कर अंतिम संस्कार करना है तो बैंक ने दे दी छुट्टी, जानिये क्या है पूरा मामला

214

बक्सर-न्यूज टुडे नेटवर्क- कई बार कर्मचारियों के साथ छुट्टी को लेकर विवाद होता है। जिसे छुट्टी नहीं मिलने पर अक्सर कर्मचारियों के आत्महत्या भी कर लेते हैं। ऐसा ही एक मामला बक्सर में देखने को मिला। यहां छुट्ी न मिलने से परेशान एक बैंक प्रबंधक ने पत्नी की हत्या करने के नाम पर छुट्टी का आवेदन अपने अधिकारियों समेत मानवाधिकार आयोग और राष्ट्रपति को भेज दिया। इसकी जानकारी होते ही बैंक की ओर से प्रबंधक की छुट्टी मंजूर कर ली गई। ये ना अजीब मामला पढिये पूरी खबर।

iimt haldwani

पत्र पढक़र अधिकारियों में मचा हडक़ंप

बताया जा रहा है कि दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक में कार्यरत बक्सर के एकल कर्मी ग्रामीण ब्रांच बकसड़ा के प्रबंधक मुन्ना प्रसाद की पत्नी किडनी रोग से ग्रसित है और उनके इलाज के लिए प्रबंधक को छुट्टी नहीं दी जा रही थी। बार-बार छुट्टी के लिए कहने पर अधिकारी झल्ला कर जवाब देते है। ऐसे में अवसाद में आकर प्रबंधक ने प्रधान कार्यालय पटना को पत्र लिखते हुए इसकी प्रति राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग और प्रधानमंत्री को भेज दिया। पत्र में लिखा कि मुझे अपनी पत्नी की हत्या कर उसका अंतिम संस्कार करने के लिए सिर्फ दो दिनों की छुट्टी दी जाए। पत्र मिलने ही बैंक अधिकारियों में हडक़ंप मच गया। अधिकारियों ने तत्काल उसे छुट्टी दे दी गई। बताया जा रहा है कि एकल शाखा होने के कारण यहां कार्यरत कर्मी को छुट्टी देने से पहले दूसरे कर्मचारी को वहां विकल्प में देना होता है, जिससे शाखा का काम प्रभावित नहीं हो। वही क्षेत्रीय प्रबंधक का कहना है कि जब भी उन्होंने छ़ुट्टी मांगी है तो दी गई है।