iimt haldwani

BJP की रणनीति : उत्तर प्रदेश में अब तक इन 25 वर्तमान सांसदों का कट चुका है टिकट, कुछ इन बड़े चेहरों का भी कट सकता है टिकट

512

लखनऊ-न्यूज टुडे नेटवर्क : भाजपा अध्यक्ष अमित शाह व बीजेपी पूरी तरह पूरी तरह चुनावी मूड में आ गए हैं इसके लिये पार्टी संगठन ने फेरबदल की कवायद शुरू कर दी है। भारतीय जनता पार्टी ने वर्तमान 25 सांसदों के टिकट काट दिये हैं। भाजपा ने 75 पार का फार्मूला दरकिनार कर दिया है और आधे से कुछ कम सांसदों के टिकट कटने जा रहे हैं। सूत्रों का दावा है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रणनीति सिर्फ जिताऊ प्रत्याशियों को ही टिकट देने की है। इसी रणनीति के तहत उत्तर प्रदेश में 25 से 30 सीटों पर नए चेहरे उतारे जा सकते हैं।

amarpali haldwani

amit_shah

इन लोगों के कट चुके हैं टिकट

सूत्रों ने दावा किया है कि पार्टी ने वर्तमान 25 सांसदों के टिकट काट दिये हैं। जिन सांसदों के टिकट काटे जाने का दावा किया गया है, उनमें अकबरपुर -देवेन्द्र सिंह भोले, इलाहाबाद -श्यामा चरण गुप्ता, अम्बेडकर नगर -हरिओम पाण्डेय , आंवला -धर्मेन्द्र कुमार, बलिया -भरत सिंह , बस्ती – हरीशचन्द्र, भदोही – वीरेन्द्र सिंह , धौराहरा – रेखा वर्मा, इटावा- अशोक कुमार दोहरे, फतेहपुर-निरंजन ज्योति, फतेहपुर सीकरी-बाबूलाल , हमीरपुर -कुँवर पुष्पेन्द्र सिंह, संभल -सत्यपाल सिंह और कुशीनगर से राजेश पांडे शामिल हैं। सूत्रों का कहना है कि यह संख्या बढ़ सकती है। जल्द ही अन्य नाम सामने आ जायेंगे। सूत्रों का दावा है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रणनीति सिर्फ जिताऊ प्रत्याशियों को ही टिकट देने की है। इसी रणनीति के तहत उत्तर प्रदेश में 25 से 30 सीटों पर नए चेहरे उतारे जा सकते हैं।

bjp

इन लोगों की भी काट सकता है टिकट

देवरिया से कलराज मिश्रा और कानपुर से डा. मुरली मनोहर जोशी से भारी उम्मीद्वार भाजपा को नहीं मिल रहा है। रामपुर से डा. नेपाल सिंह, आंवला से धर्मेन्द्र कश्यप, भदोही से वीरेंद्र मस्त, खीरी से अजय मिश्रा टेनी, मिश्रिख से अजू बाला, उन्नाव से साक्षी महाराज, अकबरपुर से देवेंद्र सिंह भोले, फैजाबाद से लल्लू सिंह, बाराबंकी से प्रियंका सिंह रावत, बस्ती से हरीश द्विवेदी, सलेमपुर से रवींद्र कुशवाहा, बलिया से भरत सिंह, लालगंज से नीलम सोनकर, जौनपुर से कृष्णप्रताप सिंह, अम्बेडकरनगर से हरिओम पांडे, इलाहाबाद से श्यामा चरण गुप्त, बांदा से भैरों प्रसाद मिश्रा, श्रावस्ती से दद्दन मिश्रा, इटावा से अशोक दोहरे, फर्रुखाबाद से मुकेश राजपूत, कुशीनगर से राजेश पांडे, मेरठ से राजेंद्र अग्रवाल का टिकट कटने की उम्मीद की जा सकती है।

पार्टी ने 75 पार का फार्मूला दरकिनार कर दिया है। यह फार्मूला सिर्फ मंत्रिमंडल तक के लिए लागू रहेगा। भाजपा आधे से कुछ ही कम सीटों पर उम्मीदवार बदलेगी। हालांकि क्षेत्र बदलने के मामले में मेनका गांधी और वरुण गांधी का नाम भी शामिल है। उमा भारती ने पहले ही यह एलान कर रखा है कि वह चुनाव नहीं लड़ेंगी उनकी जगह रवि शर्मा उम्मीद्वार हो सकते हैं।