भीमताल- घर लौटकर ये रोजगार करना चाहता है प्रवासी, सरकार ने इतनो को बनाया आत्मनिर्भर

Slider

राज्य से पलायन रोककर प्रवासियों को स्वरोजगार देने की मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का नैनीताल जिले में पहला साक्षात्कार आयोजित हुआ है। जिसमें मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में प्रवासियों और बेरोजगारों को स्वरोजगार के लिए लोन वितरित किए जाने को लेकर साक्षात्कार हुआ।

uttarakhand cm rojgar nainital

Slider

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत स्वरोजगार करने के इच्छुक 50 अभ्यर्थियों को दो चरण में बुलाया गया था जिसमें से केवल 45 अभ्यर्थी साक्षात्कार के लिए पहुंचे जिनमें से नौ प्रवासी थे। स्वरोजगार लगाने के लिए हुए इस साक्षात्कार में 9 प्रवासियों सहित 44 अभ्यर्थियों के लिए स्वरोजगार खोलने के लिए लोन के आवेदन स्वीकृत किए गए है।

घर आकर यह काम करना चाहते हैं प्रवासी

जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक विपिन कुमार ने बताया अधिकांश बेरोजगार पोल्ट्री फॉर्म, परचून की दुकान, ऑटो सर्विस सेक्टर, नमकीन मिठाई निर्माण, कॉस्मेटिक की दुकान सहित अन्य स्वरोजगार करना चाहते हैं। इसके अलावा अन्य आवेदन कर्ताओं के साक्षात्कार भी जल्द दूसरे साक्षात्कार कार्यक्रम में किए जाएंगे। इस दौरान एलडीएम एमएस जंगपांगी, आईटीआई के प्रिंसिपल जेएस जलाल, एसबीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक उत्तम सिंह, नंदा भट्ट, खादी ग्रामोद्योग बोर्ड से केसी सती सहित तमाम विभागीय लोग मौजूद थे।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें