iimt haldwani

भीख मांगने से अच्छा है, भारत से दोस्ती कर ले पाकिस्तान : हिना रब्बानी खार

310

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क : पाकिस्तान की पूर्व विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार ने पाकिस्तान के नेतृत्व पर कड़ी टिप्पणी की है। हिना ने कहा है कि पाकिस्तान को दोनों हाथों में कटोरा लेकर भीख मांगने से अच्छा है भारत के साथ संबंध सुधारने पर ध्यान देना चाहिए। हिना ने इसके साथ ही कहा कि बेहतर होगा कि अमेरिका का क्लाइंट बनने की जगह पाकिस्तान भारत समेत बाकी पड़ोसी देशों के साथ रिश्ते बेहतर करे। पाकिस्तान के ‘डॉन’ अखबार में रविवार को आई एक खबर के मुताबिक, पूर्व विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान अपने दोनों हाथों में भिक्षा पात्र रख कर सम्मान नहीं हासिल कर सकता।

amarpali haldwani

pak4

अहमियत का हकदार नहीं अमेरिका

पाकिस्तान की प्रथम महिला विदेश मंत्री (2011-2013) रह चुकीं हिना ने कहा कि पाकिस्तान का सबसे महत्वपूर्ण संबंध अमेरिका के बजाय अफगानिस्तान, भारत, ईरान और चीन के साथ होना चाहिए. उन्होंने कहा कि अमेरिका उतनी अहमियत पाने का हकदार नहीं है जितनी पाकिस्तान में उसे दी गई है क्योंकि हमारी अर्थव्यवस्था अमेरिका के सहयोग पर निर्भर नहीं है, जैसा कि व्यापक रूप से माना जाता है।

rabbani-

युद्ध में पाक को उठाना पड़ेगा सर्वाधिक नुकसान

गौरतलब है कि हिना के कार्यकाल के दौरान अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन पाकिस्तान के ऐबटाबाद में मई 2011 में एक अमेरिकी सैन्य अभियान में मारा गया था। हिना ने कहा कि पाकिस्तान को अमेरिका से ज्यादा उम्मीदें नहीं रखनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान को अवश्य ही अफगान युद्ध से बाहर निकल जाना चाहिए। 17 बरसों से चले आ रहे इस युद्ध में पाक को सर्वाधिक नुकसान उठाना पड़ा है।