inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश बरेली की माई पैड बैंक का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में...

बरेली की माई पैड बैंक का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में हुआ शामिल

Hathras Case: एक बार फिर क्राइम सीन पर पहुंची सीबीआई, चश्मदीद विक्रम भी है मौजूद

हाथरस केस में सीबीआई (CBI) की जांच लगातार जारी है।आज एक बार फिर सीबीआई क्राइम सीन (Crime Scene) पर पहुंची। क्राइम सीन पर सीबीआई...

बरेली में वाइरल वीडियो के बाद लव जिहाद का आरोप लगाने पर हिन्दू का प्रदर्शन , पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बरेली में भाजपा कार्यकर्ताओं की लाठी से पिटाई करने की घटना सामने आई है। बता दें कि थाना किला क्षेत्र में एक मुस्लिम युवक...

वैष्णो देवी यात्रा के लिए साइकिल पर 2200 KM का सफर तय करेंगी 68 वर्षीय महिला

दुनिया भर में वर्ल्ड रिकॉर्ड (World Record) बनाते हुए करते हो आपने देखा होगा। लेकिन इस बार महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले की एक 68...

हाथरस केस में सामने आया पुलिस की लापरवाही का बड़ा मामला, चार आरोपियों में से एक आरोपी निकला नाबालिक

हाथरस केस (Hathras Case) में पुलिस की लापरवाही का एक बड़ा मामला सामने आया है। इस केस में जेल भेजे गए चार आरोपियों में...

इस दिन से खुलेंगे नवोदय व केंद्र विद्यालय, इन नियमों का करना होगा पालन

देश में कोरोना वायरस (corona virus) की वजह से पिछले 7 महीने से स्कूल बंद चल रहे हैं। यूपी समेत कुछ राज्यों में कक्षा...

बरेली: अक्षय कुमार (Akshay Kumar) की फिल्‍म पैडमैन (Film Padman) को देख कर बरेली (Bareilly) के कुछ छात्र इतना प्रभावित हुए कि उन्‍होंने बरेली में अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर अपनी एक संस्‍था शुरू की है। इस संस्‍था का नाम ‘माई पैड बैंक’ (My Pad Bank ) है। जिसमें यह लोग निशुल्क गरीब लोगों को सैनिटरी पैड (Sanitary Pad) देते हैं।
pad bank
बरेली की माई पैड बैंक संस्था ने दिसंबर 2018  में एक 1720 नाइन (Niine) सैनिटरी पैड जोड़कर  22 फुट लंबा व 11 फुट चौड़ा एक विशाल पैड बनाया था, जो कि सामाजिक झिझक को खत्म करने के उद्देश्य से बनाया गया था। जनवरी 2019 में इसे ‘उत्तर प्रदेश बुक ऑफ रिकॉर्ड’ (Uttar Pradesh Book of Records) का खिताब मिला था और फरवरी 2020 में ‘लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड’ (Limca Book of Record ‘) में भी नाम शामिल हो गया है।
pad bank 1
पैड बैंक के संस्थापक चित्रांश सक्सेना ने कहा कि उनकी टीम निरंतर लोगों में यह शर्म और झिझक तोड़ने का कार्य कर रही है, यही उद्देश्य लेकर हमारी टीम के सहयोग से यह विशाल पैड बनाया जिसकी आम जनता ने काफी सराहना की और इसमें बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। उन्‍होंने कहा कि हम यह देखना चाहते थे कि जब लोग एक जगह पर एक साथ इतने सारे पैड दिखेंगे तो उन की क्या प्रतिक्रिया होगी व लोग कितना इसमें सहयोग करेंगे।
pad bank 2
इस में प्रयोग हुए 1720 पैड्स को बाद में टीम ने मलिन बस्तियों में निशुल्क बाँट दिए और माहवारी के समय स्वच्छता के प्रति जागरूक किया। पैड बैंक टीम में उत्कर्ष सक्सेना, अना खान , सहर चौधरी , शिल्पी सक्सेना , सुनिधि मालिक, जेनिफर, ऐश्वर्या, अनिल राज , राशि उदित, इमैनुएल , यश, लावण्या रावल, अनुभव , शिल्पी जायसवाल, आदि ने विशाल पैड बनाने में सहयोग किया ।

Related News

Hathras Case: एक बार फिर क्राइम सीन पर पहुंची सीबीआई, चश्मदीद विक्रम भी है मौजूद

हाथरस केस में सीबीआई (CBI) की जांच लगातार जारी है।आज एक बार फिर सीबीआई क्राइम सीन (Crime Scene) पर पहुंची। क्राइम सीन पर सीबीआई...

बरेली में वाइरल वीडियो के बाद लव जिहाद का आरोप लगाने पर हिन्दू का प्रदर्शन , पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बरेली में भाजपा कार्यकर्ताओं की लाठी से पिटाई करने की घटना सामने आई है। बता दें कि थाना किला क्षेत्र में एक मुस्लिम युवक...

वैष्णो देवी यात्रा के लिए साइकिल पर 2200 KM का सफर तय करेंगी 68 वर्षीय महिला

दुनिया भर में वर्ल्ड रिकॉर्ड (World Record) बनाते हुए करते हो आपने देखा होगा। लेकिन इस बार महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले की एक 68...

हाथरस केस में सामने आया पुलिस की लापरवाही का बड़ा मामला, चार आरोपियों में से एक आरोपी निकला नाबालिक

हाथरस केस (Hathras Case) में पुलिस की लापरवाही का एक बड़ा मामला सामने आया है। इस केस में जेल भेजे गए चार आरोपियों में...

इस दिन से खुलेंगे नवोदय व केंद्र विद्यालय, इन नियमों का करना होगा पालन

देश में कोरोना वायरस (corona virus) की वजह से पिछले 7 महीने से स्कूल बंद चल रहे हैं। यूपी समेत कुछ राज्यों में कक्षा...

Covid-19: कोरोना का चौंकाने वाला खुलासा, 11 साल की बच्ची के साथ हुआ कुछ ऐसा

कोरोना वायरस (corona virus) में दुनिया भर में तबाही मचा रखी है। समय-समय पर हो रही रिसर्च में हैरतअंगेज करने वाली बातें भी सामने...