किच्छा-इन दो बड़े शहरों को बर्बाद करने बरेली से आया था लाखों का माल, ऐसी खुली पोल

किच्छा-न्यूज टुडे नेटवर्क- पुलभट्टा पुलिस ने स्मैक तस्करी के बड़े गिरोह का खुलासा करते हुए 571 ग्राम स्मैक के साथ तीन तस्करों को दबोच लिया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत 60 लाख से ऊपर बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि ऊधमसिंह नगर जिले में अब तक की यह दूसरी सबसे बड़ी खेप है। पुलिस की इस सफलता से आईजी पूरन सिंह रावत ने उन्हें बधाई दी और तस्करों को पडऩे वाली टीम को आईजी ने पांच हजार, एएसपी ने ढाई हजार, एसपी सिटी ने पंद्रह सौ रुपये पुरस्कार की घोषणा की है। आज एएसपी ने इसका खुलासा किया। तीनों युवक इन दो बड़े शहरों को नशे में धकलेने आये थे। अंत में पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी। पुलिस ने तीनों युवकों को गिरफ्तार किया।

स्मैक की कीमत करीब 60 लाख

आज पुलभट्टा थाने में खुलासा करते हुए एसपी सिटी देवेंद्र पिंचा ने बताया कि एंटी ड्रग टास्क सफोर्स के साथ पुलभट्टा पुलिस सीओ हिमांशु शाह के नेतृत्व चेकिंग अभियान चला रही थी। इस दौरान बाइक नंबर यूपी 25 बीवी 9803 पर सवार तीन युवकों को दबोच लिया। चेकिंग में उनके पास से 271 ग्राम स्मैक बरामद की। जिसके बाद उससे पूछताछ की गई तो पुलिस ने घेराबंदी कर एक और तस्कर को दबोच लिया। उसके पास से पुलिस ने 300 ग्राम स्मैक बरामद कर ली। पूछताछ में तस्करों ने अपना नाम अकरम पुत्र बाबू, इकरार पुत्र बसीर अहमद, नन्हे अजीमुल्लाह निवासी वार्ड 11 फतेहगंज पश्चिम बरेली बताया है। आरोपी रुद्रपर एवं किच्छा में स्मैक की सप्लाई देने आ रहे थे। उन्होंने बताया कि पुलिस मुख्य सप्लायर की तलाश कर रही है। स्मैक की कीमत करीब 60 लाख बताई जा रही है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें