inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश Bareilly: लॉकडाउन में प्रशासन ने प्रवासियों को खिलाए 66 लाख, शासन ने...

Bareilly: लॉकडाउन में प्रशासन ने प्रवासियों को खिलाए 66 लाख, शासन ने मांगा हिसाब

यूपी कौशल विकास के कार्यालय में लगी भीषण आग, दमकल विभाग अभी भी बुझा रहा

आज लखनऊ (Lucknow) में स्थित उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन के कार्यालय में भीषण आग (Fire) लग गई। आग लगने से इलाके में हड़कंप...

आईआरसीटीसी की ओर से चलाई गई पर्यटक ट्रेनें होने जा रही है रद्द, जानिए कारण

आईआरसीटीसी (IRCTC) की ओर से चलाई गई पर्यटक ट्रेनों (Tourist Trains) को यात्री न मिल पाने के कारण रद्द किया जा रहा है। पर्यटक...

मिर्जापुर की सांसद ने मिर्जापुर-2 पर लगाए यह आरोप, कर रही हैं प्रतिबंध करने की मांग

मिर्जापुर-2 वेब सीरीज (Mirzapur 2 Webseries) लगातार विवादों में फंसती जा रही है। अब मिर्जापुर जिले में मिर्जापुर जिले में अपना दल की सांसद...

कंगना रनौत ने एक बार फिर शिवसेना नेता संजय राउत पर निशाना साधते हुए दी दशहरे की शुभकामनाएं

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने ट्वीट कर एक बार फिर शिवसेना नेता संजय राउत (Shiv Sena Leader Sanjay Raut) पर निशाना साधा है। कंगना...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने पोस्ट के जरिए लोगों से कही ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया के माध्यम से लगातार न्याय की मांग करती...

कोरोना वायरस महामारी (corona virus pandemic) के कारण लोगों में सारी व्यवस्था अस्त-व्यस्त कर दी थीं। लॉकडाउन (lockdown) में दूसरे राज्यों व शहरों में रह रहे प्रवासियों ने अपने पैतृक शहरों की तरफ पलायन करना शुरू कर दिया। इस समय देश के विभाजन के बाद का सबसे बड़ा पलायन देखा गया। पूरा यातायात बंद होने के कारण प्रवासियों ने पैदल व साइकिल (cycle) से ही यात्रा शुरू कर दी। इसे देखकर प्रशासन ने उनके खाने की व्यवस्था में सभी तहसीलों में रसोईया सजवा दीं।
food distribution for migrants in lockdown
बता दें कि प्रशासन ने प्रवासियों (migrants) के खाने-पीने पर लगभग 66 लाख रुपए खर्च किए हैं। अब शासन ने इसका पूरा ब्यौरा तलब किया है। अब शासन के मांगने पर जिला प्रशासन ने पूरी रिपोर्ट भेजी है। बरेली प्रशासन ने बताया कि पांचों तहसीलों (नवाबगंज, मीरगंज, फरीदपुर, आंवला और बहेड़ी) में सरकारी रसोई बनाई गई थीं। बसों से जिन्हें भेजा गया, उन प्रवासियों को राशन किट (Ration kit) दी गई थी।

प्रशासन ने अपने लेखा-जोखा में बताया कि पहली अप्रैल से जून के मध्य तक शासकीय खर्च से 199159 रुपये की पूड़ी, सब्जी और तहरी खिलाई थी। करीब 35097 हजार रुपये का जनसहयोग भी मिला। 5006 पैकेट कच्चा राशन वितरित किया गया। जबकि जनसहयोग से 1613 पैकेट प्रवासियों के बीच बांटे गए।
                          http://www.narayan98.co.in/
narayan college                        https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

Related News

यूपी कौशल विकास के कार्यालय में लगी भीषण आग, दमकल विभाग अभी भी बुझा रहा

आज लखनऊ (Lucknow) में स्थित उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन के कार्यालय में भीषण आग (Fire) लग गई। आग लगने से इलाके में हड़कंप...

आईआरसीटीसी की ओर से चलाई गई पर्यटक ट्रेनें होने जा रही है रद्द, जानिए कारण

आईआरसीटीसी (IRCTC) की ओर से चलाई गई पर्यटक ट्रेनों (Tourist Trains) को यात्री न मिल पाने के कारण रद्द किया जा रहा है। पर्यटक...

मिर्जापुर की सांसद ने मिर्जापुर-2 पर लगाए यह आरोप, कर रही हैं प्रतिबंध करने की मांग

मिर्जापुर-2 वेब सीरीज (Mirzapur 2 Webseries) लगातार विवादों में फंसती जा रही है। अब मिर्जापुर जिले में मिर्जापुर जिले में अपना दल की सांसद...

कंगना रनौत ने एक बार फिर शिवसेना नेता संजय राउत पर निशाना साधते हुए दी दशहरे की शुभकामनाएं

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने ट्वीट कर एक बार फिर शिवसेना नेता संजय राउत (Shiv Sena Leader Sanjay Raut) पर निशाना साधा है। कंगना...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने पोस्ट के जरिए लोगों से कही ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया के माध्यम से लगातार न्याय की मांग करती...

योगी सरकार के आदेश, Urea के टॉप 20 खरीददारों की हर महीने होगी जांच

प्रदेश में यूरिया (urea) की कालाबाजारी रोकने के लिए सरकार यूरिया खरीददारों पर नजर रखेगी। इस संबंध में यूपी सरकार ने यूरिया के टॉप...