inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश Bareilly: फूलों की खेती से जुड़े किसानों को इस वजह से हुआ...

Bareilly: फूलों की खेती से जुड़े किसानों को इस वजह से हुआ करोड़ों का नुकसान

बरेली: विडंबना, दो दिन पहले जिसे डोली में बिठाया, उसी बिटिया की अर्थी उठानी पड़ी पिता को

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। शादी के दो दिन बाद ही ससुराल में अनहोनी का शिकार हुई शिवानी के पिता ने पति और उसके घरवालों पर...

बरेली: हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाहन स्वामियों के लिए बनी सर दर्द

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (एचएसआरपी) को ऑनलाइन आवेदन करने में लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस...

एटा: निःशुल्क नेत्र शिविर में पुलिस ने कराया चालकों का चेकअप

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के एटा जिले में नि-शुल्‍क नेत्र शिविर का आयोजन किया गया। इस मौके पर पुलिस ने वाहन चालकों का चेकअप कराया।...

संभल: केन्द्र सरकार के तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस लेने के लिए गरजे किसान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। केन्द्र सरकार द्वारा पारित कराए गए तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस कराने की मांग करते हुए किसानों ने सडक पर जाम...

संभल: खिलाड़ियों को जल्द मिलेंगी अत्याधुनिक सुविधाएं, खेल मैदान का अफसरों ने किया निरीक्षण

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के संभल जिले में खिलाड़ियों को सुविधाएं मुहैया कराने की कवायद तेज हो गई है। शनिवार को अफसरों ने खेल...
लगातार लॉकडाउन (Lockdown) जारी रहने का असर सिर्फ बड़े उद्योगों पर ही नहीं बल्कि छोटे किसानों पर भी हो रहा है। लाॅकडाउन में मंदिर बंद पड़े हैं और शादियां नहीं हो पा रही हैं। जिसका का बुरा प्रभाव बरेली में फूलों की खेती और नर्सरी (nursery) व्यवसाय से जुड़े लोगों पर भी दिख रहा है।
flower farming
नतीजा खेतों में ही फूल (flowers) खराब हो रहे हैं, तो कहीं नर्सरी पर फूल पौधों की तमाम सीजनल पौध (seasonal plants) भी मुरझा गई हैं। लाॅकडाउन के चलते इन किसानों को करोड़ों रूपए का नुकसान हुआ है। अब फूलों की खेती करने वाले किसान प्रशासन और सरकार से लॉकडाउन खुलने की आस लगाए बैठे हैं।
नर्सरी कारोबारियों का कहना है कि लाॅकडाउन की वजह से उन्हें करीब 80 करोड़ का नुकसान हो गया है। व्यापारी नुकसान होने से कर्ज में डूब गए हैं। नर्सरी कारोबारी यशपाल और भवानी मौर्या ने बताया कि हर साल मई-जून की सहालग पर उनकी नर्सरी से फूलों की ब्रिकी होती थी। लाॅकडाउन के चलते सहालग खत्म हो गई और फूल नर्सरी में ही खराब हो गये हैं।

Related News

बरेली: विडंबना, दो दिन पहले जिसे डोली में बिठाया, उसी बिटिया की अर्थी उठानी पड़ी पिता को

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। शादी के दो दिन बाद ही ससुराल में अनहोनी का शिकार हुई शिवानी के पिता ने पति और उसके घरवालों पर...

बरेली: हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाहन स्वामियों के लिए बनी सर दर्द

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (एचएसआरपी) को ऑनलाइन आवेदन करने में लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस...

एटा: निःशुल्क नेत्र शिविर में पुलिस ने कराया चालकों का चेकअप

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के एटा जिले में नि-शुल्‍क नेत्र शिविर का आयोजन किया गया। इस मौके पर पुलिस ने वाहन चालकों का चेकअप कराया।...

संभल: केन्द्र सरकार के तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस लेने के लिए गरजे किसान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। केन्द्र सरकार द्वारा पारित कराए गए तीनों कृषि अध्यादेशों को वापस कराने की मांग करते हुए किसानों ने सडक पर जाम...

संभल: खिलाड़ियों को जल्द मिलेंगी अत्याधुनिक सुविधाएं, खेल मैदान का अफसरों ने किया निरीक्षण

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के संभल जिले में खिलाड़ियों को सुविधाएं मुहैया कराने की कवायद तेज हो गई है। शनिवार को अफसरों ने खेल...

संभल: जाको राखे साईयां, मार सके ना कोय, नीरज को मोहम्मद फैसल ने रक्तदान कर बचाई जान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। एक ओर जहां धर्म और जाति की राजनीति समाज में जहर घोलने का घिनौना कार्य करने से बाज नहीं आते। वहीं...