Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश Bareilly: निजीकरण के चलते कर्मचारियों ने सरकार को दी चेतावनी, होगा अनिश्चितकाल...

Bareilly: निजीकरण के चलते कर्मचारियों ने सरकार को दी चेतावनी, होगा अनिश्चितकाल धरना प्रदर्शन

BAREILLY: स्कूल फीस को लेकर अभिभावक पहुंचे कलेक्ट्रेट और की ये मांग

बरेली: अभिभावक और स्कूल प्रबंधन (School Management) के बीच फीस को लेकर तकरार जारी है। कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के चलते पिछले छह महीने...

रिया और शौविक चक्रवर्ती की जमानत याचिका पर आज नहीं होगी सुनवाई, जानिए कारण

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput) से जुड़े ड्रग्स मामले (Drugs Cases) में रिया चक्रवर्ती की मुश्किलें कम नहीं हो रही है। मंगलवार...

Covid Vaccine: भारत बायोटेक बनाएगी एक अरब कोरोना वैक्सीन

पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी (Corona virus vaccine) से परेशान है। सभी लोगों की आस कोरोना वैक्सीन पर लगी हुई है। इसी बीच कोरोना...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता ने शेयर किया फैंस द्वारा भेजे गए मैसेज का वीडियो, और कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया पर लगातार सुशांत के लिए न्याय की मांग...

टाइम मैगज़ीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की सूची, PM मोदी के साथ ये लोग भी हैं शामिल

साल 2020 में दुनिया भर के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची प्रतिष्ठित मैगजीन 'टाइम' (time magazine) ने जारी कर दी है। टाइस मैग्जीन की...

विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के आह्वान पर इलेक्ट्रिसिटी (अमेंडमेंट) बिल-2020 तथा पूर्वांचल विद्युत् वितरण निगम के निजीकरण के विरोध में शासन को आंदोलन की नोटिस दी है। इसके लिए यूपी के सभी ऊर्जा निगमों के तमाम बिजली कर्मचारियों, जूनियर इंजीनियरों और अभियंताओं ने राजधानी लखनऊ सहित राज्य के सभी जिलों और परियोजना मुख्यालयों पर विरोध प्रदर्शन करने का फैसला किया है।

vip villages electricity

यूपी में विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रही उप्र विद्युत् कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति की मांग है कि बिजली कर्मचारियों को विश्वास में लिए बगैर  प्रदेश में ऊर्जा क्षेत्र का कोई निजीकरण नहीं किया जाएगा। संघर्ष समिति के प्रतिनिधियों का कहना है कि दिसंबर 1993 में ग्रेटर नोएडा क्षेत्र का निजीकरण किया गया और अप्रैल 2010 आगरा शहर की बिजली व्यवस्था टोरेन्ट फ्रेंचाइजी को दी गई और यह दोनों ही प्रयोग विफल रहे हैं । इन प्रयोगों के चलते पावर कारपोरेशन को अरबों खरबों रुपए का घाटा हुआ है।

Uttarakhand Government

ऐसे में सवाल उठता है कि इन्हीं विफल प्रयोगों को एक बार फिर पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम पर क्यों थोपा जा रहा है। इसके चलते संघर्ष समिति ने निर्णय लिया है कि निजीकरण के विरोध में अनिश्चितकालीन आंदोलन चलाया जाएगा। जिसमें पूर्ण हड़ताल भी सम्मिलित होगी। आज हुईं संघर्ष समिति की बैठक के दौरान शैलेन्द्र दुबे, पल्लब मुखर्जी, प्रभात सिंह, जी वी पटेल, जय प्रकाश, गिरीश पांडेय, सदरुद्दीन राना, आदि सम्मिलित रहे।

Related News

BAREILLY: स्कूल फीस को लेकर अभिभावक पहुंचे कलेक्ट्रेट और की ये मांग

बरेली: अभिभावक और स्कूल प्रबंधन (School Management) के बीच फीस को लेकर तकरार जारी है। कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के चलते पिछले छह महीने...

रिया और शौविक चक्रवर्ती की जमानत याचिका पर आज नहीं होगी सुनवाई, जानिए कारण

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput) से जुड़े ड्रग्स मामले (Drugs Cases) में रिया चक्रवर्ती की मुश्किलें कम नहीं हो रही है। मंगलवार...

Covid Vaccine: भारत बायोटेक बनाएगी एक अरब कोरोना वैक्सीन

पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी (Corona virus vaccine) से परेशान है। सभी लोगों की आस कोरोना वैक्सीन पर लगी हुई है। इसी बीच कोरोना...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता ने शेयर किया फैंस द्वारा भेजे गए मैसेज का वीडियो, और कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया पर लगातार सुशांत के लिए न्याय की मांग...

टाइम मैगज़ीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की सूची, PM मोदी के साथ ये लोग भी हैं शामिल

साल 2020 में दुनिया भर के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची प्रतिष्ठित मैगजीन 'टाइम' (time magazine) ने जारी कर दी है। टाइस मैग्जीन की...

MJPR University: विवि के नए कुलपति आते ही NAAC की निरीक्षण कमेटी में हुए बदलाव

रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) में नए कुलपति आते ही NAAC के मूल्यांकन की तैयारी तेजी से होने लगी है। कुलपति ने शोध के मामलों...