Bareilly: जेल के अंदर कैदी नहीं मिल सकेंगे परिजनों से, साथी कैदियों से मिलने पर भी लगाई रोक

Bareilly: देशभर में कल एक ही दिन में कोरोना के 50 पॉजिटिव केस (positive case) मिलने से हड़कंप मच गया है। वहीं कोरोना वायरस (Corona Virus) को लेकर खौफ के बीच बरेली की जिला जेल में तीन बंदी बुखार और जुकाम से पीड़ित मिले हैं। कई दिनों से उनकी तबीयत में सुधार न होने पर उनके ब्लड सेंपल (Blood Sample) को कोरोना जांच के लिए लखनऊ भेजा गया है । इसके साथ ही जेल में मिलाई भी बंद कर दी गई है।
jila jail जिला जेल में कोरोना वायरस से बचने के लिए जागरूकता अभियान (Awareness Campaign) चलाया था। इसके तहत वहां तैनात डॉक्टरों ने बंदियों को साफ सफाई का ख्याल रखने की जानकारी दी थी। इसी बीच जेल में बंद तीन बंदियों की तबीयत बिगड़ गई। उनकी तबीयत में कोई सुधार नहीं आया, इसलिए डॉक्टरों ने उनका ब्लड सैंपल जांच (report) के लिए लखनऊ भिजवाया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद यह स्पष्ट हो सकेगा कि उन्हें सामान्य वायरल ही है।

इस वायरस से जेल में कोई और बंदी संक्रमित न हो सके, इसके लिए जेल प्रबंधन ने बंदियों की मिलाई बंद कर दी है। कल कुछ लोग अपने रिश्तेदारों (Relatives) से मिलने जेल गए थे लेकिन उनकी मुलाकात नहीं हो सकी। जेल प्रशासन ने कोरोना के चलते। अलर्ट का हवाला देकर उनको मिलाई बिना लौटा दिया। जेल अधीक्षक यूपी मिश्रा ने बताया कि जेल के अंदर कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए सैनेटाइजर (Sanitizer) का प्रयोग किया जा रह है। इसके साथ ही जेल में बंदी मास्क (Mask) बना रहे हैं। यह मास्क बंदियों को ही बांटे जा रहे हैं। इसके अलावा कई और तरह से बंदियों को जागरूक किया जा रहा है, ताकि कोरोना को बढ़ने से रोका जा सके।

corona helpdesk
न्‍युज टूडे नेटवर्क द्वारा जनहित में जारी
उत्तराखंड की बड़ी खबरें
A valid URL was not provided.