BAREILLY: जिले में शुरू हुई नए राशन कार्ड बनाने की कवायद, ‌तीन लाख सदस्यों को मिलेंगी यह सुविधा

बरेली: लॉकडाउन (Lockdown) के बीच जिले में आए प्रवासी मजदूरों (Migrant Laborers) के परिवार के लिए तीन लाख सदस्यों को राशन कार्ड (Ration Card) की सुविधा देने का फैसला किया गया है। विशेष सचिव ओम प्रसाद वर्मा की ओर से मजदूर परिवारों को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (National Food Security Act) के तहत लाभ देने के आदेश आए हैं। आदेश के बाद से ही पूर्ति विभाग (Supply department) ने नए राशन कार्ड बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि जिले में 60 से 70 हजार नए राशन कार्ड बनाएं जा सकते हैं।

dm bareillyप्रवासी मजदूरों को राशन कार्ड देने के लिए शासन (Governance) के निर्देश पर डीएम (DM) ने सात सदस्य टीम गठित की है। इसमें सीडीओ, एडीएम प्रशासन, डीपीआरओ, श्रम प्रवर्तन अधिकारी और डीएसओ सदस्य के रूप में शामिल हैं। पूर्ति विभाग प्रवासी मजदूरों की सूचना ले रहे हैं। जिलाधिकारी नीतीश कुमार ने बताया कि प्रवासी मजदूरों के लिए 10 प्रतिशत अतिरिक्त यूनिट के कार्ड बनाने की अनुमति शासन से मिल गई है। इससे बड़ी संख्या में जरूरतमंद श्रमिकों को सस्ता और निशुल्क अनाज का लाभ दिया जा सकेगा।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें