BAREILLY: कोविड अस्पताल में मरीजों को नहीं मिल रहा पौष्टिक खाना, शिकायत पर हुई ये कार्रवाई

बरेली: कोविड एल-1 अस्पताल में मरीजों को सूखे आलू-रोटी और ब्रेड खिलाने का मामला खुलने पर प्रभारी मंत्री की सख्ती के बाद अब डैमेज कंट्रोल (Damage control) शुरू हो गया है। इसके लिए सीएमओ (CMO) ने कार्यालय के एक कर्मचारी का वेतन (Employee’s salary) रोक दिया गया है। इसके अलावा खाने की सप्लाई करने वाले ठेकेदार को भी चेतावनी दी गई है।

CMOकोरोना संक्रमितों (Corona Infected) के इलाज के लिए बिथरी सीएचसी पर कोविड-19 एल-1 अस्पताल बनाया गया है। यहां मंडल के मरीजों को भर्ती किया गया है। यहां खाने की सप्लाई (Food supply) की जिम्‍मेदारी श्रीकृष्णा इंटरप्राइजेज फर्म आलमगिरीगंज को दी गई है। दो दिन पहले जिले के प्रभारी मंत्री श्रीकांत शर्मा ने यहां भर्ती मरीजों से फोन पर हालचाल पूछा तो खाने की काफी शिकायत मिली। इस पर उन्होंने नाराजगी जताते हुए अधिकारियों को इसे सुधार का निर्देश दिया। अगले ही दिन सीएमओ ने वरिष्ठ सहायक सुधाकर शर्मा का आगामी माह का वेतन रोकने का आदेश दे दिया।

इसके साथ ही श्रीकृष्णा इंटरप्राइजेज फर्म के ठेकेदार एसएन शुक्ल उर्फ मन्नी ठेकेदार को भी चेतावनी (Warning) दी है। यदि भोजन की गुणवत्‍ता को नहीं सुधारा तो कार्रवाई की जाएगी। सीएमओ विनीत शुक्ला ने बताया कि मरीजों को समय से और पौष्टिक भोजन (Nutritious food) देने निर्देश दिया गया है। ठेकेदार को भी चेतावनी दी गई है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें