inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश Bareilly: किडनी बेचकर बच्चों की फीस भरने के लिए डीएम से मांगी...

Bareilly: किडनी बेचकर बच्चों की फीस भरने के लिए डीएम से मांगी इजाजत, देखिए क्या कहा मजबूर पिता ने

कोलकाता के दुर्गा पूजा पंडाल में लगाई गई सोनू सूद की मूर्ति, समिति ने मूर्ति लगाने का बताया ये कारण

कोरोना काल में एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) ने जिस तरह की लोगों की मदद की तब से भी एक मसीहा के रूप में...

OCI और PIO कार्ड-धारकों को भारत सरकार ने दी खुशखबरी, वीजा के नियमों में हुए बदलाव

भारत सरकार ने भारत यात्रा के लिए कुछ नीतियों में बदलाव किया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आज सभी ओवरसीज सीटिजन ऑफ इंडिया (OCI)...

भारत सरकार ने ट्विटर को दी कड़े शब्दों में पत्र लिखकर चेतावनी, जानिए कारण

देश का गलत मानचित्र दिखाने को लेकर भारत सरकार (Indian Government) ने ट्विटर को सख्त चेतावनी दी है। भारत सरकार ने कहा है कि...

Bareilly: केंद्र कर्मचारियों ने निकाला विजय जुलूस, सरकार के फैसले पर जाहिर की खुशी

कोरोना महामारी (Corona pandemic) में लगे लॉकडाउन (lockdown) की वजह से देश को आर्थिक आने से जूझना पड़ रहा है। ऐसे में लॉकडाउन के...

भारत में एंटी टैंक मिसाइल का सफल परीक्षण, दुश्मनों के उड़े होश

भारत रक्षा के क्षेत्र में दुनिया भर में अपना नाम कमा रहा है। पीएम मोदी के स्वदेशी अभियान के बाद काफी हद तक चीजें...

स्कूलों और अभिभावकों (schools and parents) के बीच तनातनी जोरों पर है। कोरोना महामारी (corona pandemic) के कारण आर्थिक संकट से जूझ रहे अभिभावक बच्चों की फीस जमा न कर पाने की स्थिति में है। लेकिन स्कूल प्रशासन अभिभावकों पर फीस जमा करने का दबाव लगातार बना रहा है। इसी बीच एक अभिभावक ने अपने दो बच्चों की फीस जमा करने के लिए डीएम से किडनी (kidney) बेचने की इजाजत मांगी है।
private school fees uttarakhand newsअभिभावक द्वारा डीएम को लिखा यह पत्र सोशल मीडिया (social media) पर भी वायरल हो रहा है। किडनी बेचने की इजाजत मांगने वाले जावेद अंसारी पेशे से चित्रकार हैं और प्रेमनगर के शाहबाद इलाके में रहते हैं। डीएम को लिखे पत्र में उन्होंने कहा है कि लॉकडाउन (lockdown) लागू होने के बाद से ही उनका व्यवसाय चौपट पड़ा है। अब अनलॉक हो रहा है लेकिन उन्हें फिर भी काम नहीं मिल पा रहा है। परिवार का पालन-पोषण करना तक भारी पड़ रहा है। अब दो बच्चों की फीस भरने के संकट ने उन्हें और ज्यादा तनावग्रस्त कर दिया है।

उनका एक बच्चा कक्षा नौ और एक 12वीं में है। संपत्ति के नाम पर उनके पास कुछ भी नहीं है। अगर फीस न भरी तो दोनों बच्चों का भविष्य बर्बाद हो जाएगा। वह चाहते हैं कि उनके बच्चे पढ़-लिखकर देश के जिम्मेदार नागरिक बनें। लिहाजा अपनी किडनी बेचने के अलावा उनके पास कोई रास्ता नहीं बचा है।
                   http://www.narayan98.co.in/
naryan college                     https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

Related News

कोलकाता के दुर्गा पूजा पंडाल में लगाई गई सोनू सूद की मूर्ति, समिति ने मूर्ति लगाने का बताया ये कारण

कोरोना काल में एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) ने जिस तरह की लोगों की मदद की तब से भी एक मसीहा के रूप में...

OCI और PIO कार्ड-धारकों को भारत सरकार ने दी खुशखबरी, वीजा के नियमों में हुए बदलाव

भारत सरकार ने भारत यात्रा के लिए कुछ नीतियों में बदलाव किया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आज सभी ओवरसीज सीटिजन ऑफ इंडिया (OCI)...

भारत सरकार ने ट्विटर को दी कड़े शब्दों में पत्र लिखकर चेतावनी, जानिए कारण

देश का गलत मानचित्र दिखाने को लेकर भारत सरकार (Indian Government) ने ट्विटर को सख्त चेतावनी दी है। भारत सरकार ने कहा है कि...

Bareilly: केंद्र कर्मचारियों ने निकाला विजय जुलूस, सरकार के फैसले पर जाहिर की खुशी

कोरोना महामारी (Corona pandemic) में लगे लॉकडाउन (lockdown) की वजह से देश को आर्थिक आने से जूझना पड़ रहा है। ऐसे में लॉकडाउन के...

भारत में एंटी टैंक मिसाइल का सफल परीक्षण, दुश्मनों के उड़े होश

भारत रक्षा के क्षेत्र में दुनिया भर में अपना नाम कमा रहा है। पीएम मोदी के स्वदेशी अभियान के बाद काफी हद तक चीजें...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल तरीके से किया दुर्गा पूजा का उद्घाटन और कहीं ये बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज पश्चिम बंगाल में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से दुर्गा पूजा (Durga Puja) का उद्घाटन कर दिया...