Bareilly: एक ही दिन में गिरे दो जगह लिंटर, जानें गिरने की वजह

बरेली में आज एक ही दिन में दो जगह लिंटर (Linter) गिरने की घटना सामने आई है। एक तरफ प्रेमनगर के चाहबाई में पुरानी इमारत (Old Building) का लिंटर गिरने से पांच मजदूर (Labour) दब गए। घटना से आसपास अफरातफरी मच गई। आसपास के लोगों ने पुलिस की मदद से मजदूरों को बाहर निकाला। घायलों को इलाज के लिए अलग अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। इलाज के दौरान एक मजदूर की मौत हो गई जबकि दो की हालत गंभीर है।
linter giraप्रेमनगर इलाके में पुरानी इमारत में काम चल रहा था। इस दौरान अचानक इमारत का लिंटर टूट गया जिससे वहां काम कर रहे नन्हे, कुवर सेन, पौशाकी लाल, राजेन्द्र और जयपाल उसमें दब गए। लिंटर गिरने से क्षेत्र में अफरातफरी मच गई। घटना केबाद आस पास के लोगों ने मजदूरों को बाहर निकाला। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वहीं दूसरी ओर चौपला टेलीफोन एक्सचेंज (Chaupla Telephone Exchange) के पीछे मोहल्ला गुजिया में एक पुराने मकान के लिंटर गिर जाने से उसके मलवे में कमरे में बैठे पति और पत्नी गॅभीर रूप से घायल हो गए। लिंटर गिरने की तेज आवाज सुन कर आस-पास के लोग एकत्र हो गए और मलवे में दबे पति पत्नी को निकालने का प्रयास शुरु किया। पुलिस को सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और दोनों घायलों को जिला अस्पताल भर्ती कराया।
linter giraअस्पताल आए घायल 50 वर्षीय गंगा सिंह ने बताया कि वह साइकिल से फैरी लगाकर सब्जी बेच कर परिवार का पालन पोषण करता है। उसका मकान काफी पुराना व जर्जर अवस्था में है। उसने बताया कि उसने एक साल पहले प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत अपने पुराने मकान को सही कराने के लिए आवेदन किया था। उसे उम्मीद थी कि उसे इस योजना का लाभ मिल जायेगा। उसने बताया कि डूडा कार्यालय (DUDA Office) के वह चक्कर लगाते-लगाते थक गया पर विभाग उसे रोज आज-कल कर लटकाए हुए हैं। आज दोपहर जब वह अपनी पत्नी मीरा के साथ कमरे में बैठा था तभी अचानक तेज आवाज के साथ लिंटर नीचे आ गिरा जिसके मलवे में दब कर दानों घायल हो गए। उसने बताया कि खुशकिशमत है कि उस समय उसके दोनों बेटे बाहर गए हुए थे।

Coronavirus vaccine) वैज्ञानिकों ने ढूँढ निकाला कोरोना का सबसे सस्ता इलाज, 100 रुपए में ऐसे होगा कोरोना की जाँच