inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश Bareilly: आशाओं ने इस अंदाज में लोगों को कोरोना से बचने के...

Bareilly: आशाओं ने इस अंदाज में लोगों को कोरोना से बचने के उपाय बताए, इसके बाद खूब हो रही तारीफ 

Bareilly: शहर से डेयरियों को हटाने का आदेश, यह है बड़ा कारण

बार बार चेतावनी देने के बाद भी जिन डेयरी (dairy) संचालकों ने अपनी डेरी शिफ्ट (shift) नहीं की है उन सभी को प्रशासन ने...

Bareilly: जोगिन्दर सिंह ने लिया आरएफसी का अतिरिक्त चार्ज, अधिकारियों को दिए यह निर्देश

बरेली विकास प्राधिकरण (Bareilly Development Authority) के उपाध्यक्ष जोगिंदर सिंह को क्षेत्रीय खाद्य नियंत्रक का अतिरिक्त कार्यभार ग्रहण दिया गया है। जिसके बाद उन्होंने...

Ashram 2: आश्रम-2 का trailer आते ही प्रकाश झा को अरेस्ट करने की उठी मांग, जानें वजह

बॉलीवुड डायरेक्टर प्रकाश झा की वेब सीरीज 'आश्रम' ने धमाल मचा रखा है।  एमएक्स प्लेयर (MX Player) पर रिलीज हुई वेब सीरीज 'आश्रम' के...

Bareilly: वैष्णो देवी नहीं पहुंच पाएं तो बरेली के इस मंदिर में करें माता वैष्णो देवी के दर्शन

कोरोना (Corona) काल के चलते जो लोग वैष्णो देवी (Vaishno Devi) धाम नहीं जा पाए हैं, उनको न्यूज़ टुडे नेटवर्क (News Today Network) आज...

यूपी: DIG की पत्नी ने लगाई फांसी, हाथरस कांड में SIT के सदस्य हैं चंद्र प्रकाश

यूपी की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में आज हैरान करने वाली घटना घटित हुई है। राजधानी लखनऊ में डीआईजी (DIG) चंद्रप्रकाश की पत्नी ने आत्महत्या...

कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए गांव में लोगों को होम क्वारंटाइन (Home quarantine) करना काफी चुनौतीपूर्ण कार्य था। लोग इसको समझने की बजाय विरोध करना शुरू कर देते। इसके बाद भी आशाओं ने लोगों को कोराना से बचाने की जिम्‍मेदारी को बखूवी निभाया। आखिर उन्‍हें इस काम में सफलता मिली। जिले में 24 आशा कार्यकर्ताओं (ASHA workers) की टोली ने गांव में घर-घर जाकर लोगों को गीत गाकर कोरोना से बचने के उपाय बताए। 
Asha
जनपद के क्यारा ब्लाक (Kyara Block) के तीन उपकेन्द्र क्यारा, बंरगिला और करेली की 24 आशा कार्यकर्ता अब तक मातृ-शिशु स्वास्थ्य के साथ परिवार नियोजन पर ज्यादा ध्यान देतीं थीं। उनके लिए कोरोना से जागरुक करना मुश्‍किल था। दूसरे राज्यों से आए लोग छिपकर (People secretly) अपने घरों तक पहुँच रहे थे। कोरोना से बचाने के प्रवासी लोग 14 दिन क्‍वारंटाइन की बात पर लड़ने को उतारू हो जाते थे।

 इसके इन्‍होंने गाँव के बड़े-बुजुर्गों, ग्राम प्रधान और अन्य प्रभावशाली लोगों को अपने से जोड़ा और लोगों को समझाना शुरू किया। कि होम क्वारंटाइन उनके को संक्रमण से बचाने (Prevent infection) के लिए क्‍वारंटाइन जरूरी है। धीरे-धीरे लोगों ने आशाओं के सुझाव मानने लगे। इन 24 आशा कार्यकर्ताओं की टीम की सफलता अब जिले की सभी 3150 आशा कार्यकर्ताओं के लिए एक मिसाल के रूप में है। इनमें 2875 आशा कार्यकर्ता ग्रामीण क्षेत्र (rural area) में अपनी सेवा दे रहीं हैं।

Related News

Bareilly: शहर से डेयरियों को हटाने का आदेश, यह है बड़ा कारण

बार बार चेतावनी देने के बाद भी जिन डेयरी (dairy) संचालकों ने अपनी डेरी शिफ्ट (shift) नहीं की है उन सभी को प्रशासन ने...

Bareilly: जोगिन्दर सिंह ने लिया आरएफसी का अतिरिक्त चार्ज, अधिकारियों को दिए यह निर्देश

बरेली विकास प्राधिकरण (Bareilly Development Authority) के उपाध्यक्ष जोगिंदर सिंह को क्षेत्रीय खाद्य नियंत्रक का अतिरिक्त कार्यभार ग्रहण दिया गया है। जिसके बाद उन्होंने...

Ashram 2: आश्रम-2 का trailer आते ही प्रकाश झा को अरेस्ट करने की उठी मांग, जानें वजह

बॉलीवुड डायरेक्टर प्रकाश झा की वेब सीरीज 'आश्रम' ने धमाल मचा रखा है।  एमएक्स प्लेयर (MX Player) पर रिलीज हुई वेब सीरीज 'आश्रम' के...

Bareilly: वैष्णो देवी नहीं पहुंच पाएं तो बरेली के इस मंदिर में करें माता वैष्णो देवी के दर्शन

कोरोना (Corona) काल के चलते जो लोग वैष्णो देवी (Vaishno Devi) धाम नहीं जा पाए हैं, उनको न्यूज़ टुडे नेटवर्क (News Today Network) आज...

यूपी: DIG की पत्नी ने लगाई फांसी, हाथरस कांड में SIT के सदस्य हैं चंद्र प्रकाश

यूपी की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में आज हैरान करने वाली घटना घटित हुई है। राजधानी लखनऊ में डीआईजी (DIG) चंद्रप्रकाश की पत्नी ने आत्महत्या...

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा प्याज, जानें क्या है इसकी वजह

देश में पिछले कुछ दिनों प्याज (onion) की कीमतों में भारी उछाल के बाद लोग अलग-अलग तरीके से नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। इसी...