iimt haldwani

बाजपुर-पुरानी रंजिश में चली ताबड़तोड़ गोलिया, एक की हत्या, तीन दर्जन कारतूस बरामद

553

बाजपुर-न्यूज टुडे नेटवर्क-ऊधमसिंह नगर में पुरानी रंजिश के कई मामले सामने आते है। जिसका अंजाम खून-खराबा ही होता है। अभी तक ऐसे कई मामले जिले भर में देखने को मिले है। आज बाजपुर में फिर एक ऐसी ही घटना सामने आयी। जहंा पुरानी रंजिश में एक बार फिर खून-खराबा हो गया। एक पक्ष ने शूटरों के माध्यम से ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर दूसरे पक्ष के एक बुजुर्ग की हत्या कर दी, जबकि उसका बेटा बुरी तरह घायल हो गया। इस दौरान हुई फायरिंग से पूरे क्षेत्र में दहशत फैल गई है। मौके पर भारी संख्या में उत्तराखंड व उप्र के पुलिस अधिकारी व फोर्स पहुंच गई। घटना को लेकर तनाव बरकरार है। घटना सुल्तानपुर पट्टी में प्रदेश की सीमा से सटे यूपी में हुई है।

drishti haldwani

अचानक हुआ हनीफ पर हमला

बताया जा रहा है कि सुल्तानपुर पट्टी के वार्ड नंबर सात मोहल्ला आदर्शनगर निवासी डा. हनीफ पुत्र अब्दुल हकीम का इसी मोहल्ले से सटे यूपी के अंतर्गत मिलक नौखरीद निवासी खलील पहलवान पुत्र भूरा के परिवारों में बर्चस्व की जंग चली आ रही है। जिसमें 14 जुलाई को खलील पहलवान की हत्या हो गई थी, जिसमेंं डा. हनीफ के दो पुत्र सहजाद आलम, जावेद आलम तथा उनका साथी टिपलू का नाम सामने आया था जो इस समय में जेल में बंद हैं। वहीं इसी विवाद को लेकर रविवार की सुबह फिर से खून-खराबा हुआ। बताया जाता है कि डा. हनीफ के घर पर कुरआन खानी का आयोजन था। बताया जा रहा है कि सुबह हनीफ घर से थोड़ी दूरी पर स्थित है दुकान पर सामान लेने गए थे। इस दौरान दो गाडिय़ों में सवार होकर आए आधा दर्जन शूटरों ने हनीफ को घेर लिया और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें हनीफ मौके पर ही गिर गए और कुछ ही देर में दम तोड़ दिया।

पुत्र गंभीर रूप से घायल

इस दौरान गोली की आवाज सुनकर हनीफ का लडक़ा रिजवान घर की छत पर चढ़ा तो उसने पिता को लहूलुहान पड़ देखा। उसने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए फायरिंग शुरू कर दी। जिसके बाद हमलावरों ने रिजवान पर भी फायर झोंक दिए जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया है। घटना को अंजाम देकर हमलावर फरार हो गए। इस दौरान हत्या की सूचना से पुलिस प्रशासन में हडक़ंप मच गया। मौैके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया। ओर मामले की जांच में जुट गई। पुलिस को मौके पर करीब तीन दर्जन कारतूस बरामद हुए है।