iimt haldwani

आंवला- सामाजिक कार्यों से विजय गुप्ता ने ऐसे जीता लोगों का दिल, दिव्यांगों को दिया ये खास तोहफा

136

आंवला-न्यूज टुडे नेटवर्क-हमेशा सामाजिक कार्यों में अपना योगदान देने वाले विजय कुमार गुप्ता ने दिव्यांगों को तोहफा दिया। इससे पहले भी वह कई सामाजिक कार्यों में अपना योगदान दे चुके है। आंवला में रामलली देवी धर्मशाला में सीए विजय कुमार गुप्ता संरक्षक हैं। गुरुवार को नरेंद्र पाल विजय कुमार धर्मार्थ ट्रस्ट के शारीरिक रूप से दिव्यांग लोगों के लिए ट्राइसाइकिल का वितरण किया। 20 ट्राइसाइकिल जरूरतमंद विकलांगों के लिए प्रदान की गई है। इनमें से 12 दिव्यांग लोग आंवला और बिथरी विधानसभा जिला बरेली विधानसभा से और आठ दिव्यांग दाता गंज (जिला बदायूं) विधानसभा से थे। इस मौके पर आंवला और आस-पास के सैकड़ों लोग एकत्रित थे। उन्होंने सीए विजय कुमार गुप्ता के सामाजिक कार्यों की भूरी-भूरी प्रशंसा की।

amarpali haldwani

गुप्ता को चुनावी मैदान में देखना चाहती है जनता

बताया जा रहा है कि आंवला के लोग इस बार विजय कुमार गुप्ता चुनावी मैदान में देखना चाहते है। हो भी क्यों ना विजय गुप्ता हर सुख-दुख में जनता के साथ रहते है। लंबे समय से सामाजिक कार्यों में योगदान के चलते जनता भी चाहती है कि विजय गुप्ता इस बार लोकसभा चुनाव लड़े। जिस तरह से विजय गुप्ता लोगों की सेवा करते है जनता उन्हें उनकी सेवा का फल देने को तैयार है। इस मौके पर कुलभूषण शर्मा, सुनील कुमार गुप्ता, श्रीपाल गुप्ता, दीनदयाल, धरमवीर, मुन्नै खां, साविर कातिव, रामबहादुर यादव, नरेन्द्र सिंह, देवपाल सिंह, डा. सुबोध शर्मा, नाजिम अली, हाजी वाजिद अली, शहनावाज अंसारी आदि कई लोग मौजूद थे।

इन कार्यों से मिली समाज में पहचान

समाजसेवी विजय गुप्ता ने गरीब और कमजोर वर्ग के लिए सामाजिक, धार्मिक और वैवाहिक कार्यो के लिए अम्बेडकर सामुदायिक भवन का निर्माण कराया। इसके अलावा अंवाला में स्व. रामलली देवी धर्मशाला का निर्माण कराया। वही आंवला एवं आसपास के गांवों के रोगियों के लिए धर्मार्थ ऐलोपैथिक चिकित्सालय का निर्माण कराया। आंवला दशहरा मेला शुल्क मुक्त करने के लिए आर्थिक योगदान दिया। साथ ही दशहरे मेले में नि:शुल्क चिकित्सा शिविर, प्याऊ एवं स्काउट सेवा का आयोजन भी विजय गुप्ता द्वारा किया गया। पिछड़े, दलित और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को आर्थिक सहायता एवं सहयोग किया। इसके अलावा क्षेत्र के सामाजिक आयोजन में भागीदारी कर सहयोग किया। इन्स्टीट्यूट ऑफ चार्टेड एकाउन्टेन्ट्स ऑफ इंडिया में राजनैतिक नेतृत्व किया।आईसीएआई की केन्द्रीय परिषद के सदस्य रहते हुए विजय गुप्ता ने कई महत्तवपूर्ण पदों पर कार्य किया। इसके अलावा आईसीएआई की उत्तर भारत क्षेत्रीय परिषद के सदस्य रहते हुए उपाध्यक्ष और सचिव पदों का नेतृत्व किया।

सम्मान और पुरस्कार

व्यापार एवं सामाजिक संस्थानों में सहभागिता एवं नेतृत्व किया। तम्बाकू से होने वाले दुष्परिणामों के प्रति लोगों को जागरूक करने का कार्य किया। सामाजिक सेवाओं एवं उपलब्धियों के लिए उन्हें वर्ष 2010 में माहौर वैश्व युवा सभा बरेली द्वारा भामाशाह पुरस्कार से सम्मानित किया गया। चार्टेर्ड एकाउन्टेन्ट्स एवं सीए छात्रों के लिए आयोजित सैकड़ों सेमिनार, गोष्ठियां और कान्फ्रेन्स कार्यकमों को राष्ट्रीय स्तर पर संबोधित किया।
दच