inspace haldwani
Home देश बंगाल में अमित शाह बोले- नेताजी सुभाष बोस की शहादत को भुलाया...

बंगाल में अमित शाह बोले- नेताजी सुभाष बोस की शहादत को भुलाया नहीं जा सकता, भावी पीढि़यों के लिए आदर्श हैं नेताजी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। केन्‍द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कोलकाता में कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की शहादत भावी पीढि़यों को प्रेरित करती रहेगी। शाह बंगाल के दो दिनी चुनावी दौरे पर हैं। इससे पहले गुरूवार को शाह ने ममता बनर्जी के खिलाफ रैली की थी।  शुक्रवार को भी बंगाल की अस्मिता से जुड़े नेताजी सुभाष बोस के बारे में शाह ने बखान करते हुए संबोधन दिया।

उन्‍होंने कहा कि नेताजी को भुलाया नहीं जा सकता। उनकी देशभक्ति और शहादत भावी पीढ़ियों को प्रेरित करती रहेगी। बंगला क्रांतिकारियों के सम्मान में यहां स्थित आयोजित ‘‘शौर्यांजलि’’ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शाह ने युवाओं से स्वतंत्रता सेनानियों के जीवन और संघर्ष से प्रेरणा लेने का आह्वान किया। उन्होंने कहा, ‘‘बहुत प्रयास किए गए कि सुभाष बाबू को भुला दिया जाए, परन्तु कोई कितना भी प्रयास करे, उनका कर्तव्य, देशभक्ति और उनका सर्वोच्च बलिदान पीढ़ियों तक भारत वासियों के जहन में जस का तस रहने वाला है।’’

उन्होंने कहा कि सुभाष बाबू को देश की जनता इतने वर्ष के बाद भी उतने ही प्यार और सम्मान से याद करती है जितना उनके जीवित रहने और संघर्ष के दौरान करती थी। एक उत्कृष्ट छात्र के रूप में सुभाष चंद्र बोस के जीवन और उनके आईसीएस की परीक्षा पास करने का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि इस स्वतंत्रता सेनानी ने नौकरी छोड़ दी और स्वाधीनता के आंदोलन में कूद गए ताकि यह संदेश जाए कि अंग्रेजी हुकूमत के अधीन आरामदेह जीवन जीने के मुकाबले देश उनके लिए महत्वपूर्ण है। शाह ने कहा कि सुभाष चंद्र बोस की लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता था कि वह दो बार कांग्रेस के अध्यक्ष बने और एक बार तो उन्होंने महात्मा गांधी के उम्मीदवार तक को हराया। उन्होंने देश के युवाओं से आग्रह किया कि वह सुभाष चंद्र बोस के जीवन और उनके संघर्षें के बारे में पढ़ें।

उन्होंने कहा, ‘‘जो युवा पीढ़ी अपने इतिहास को जानती है, वही एक मजबूत राष्ट्र का निर्माण कर सकती है।’’ शाह ने इस अवसर पर खुदीराम बोस और रास बिहारी बोस जैसे स्वतंत्रता सेनानियों के जीवन पर आधारित एक प्रदर्शनी ‘‘बिप्लबी बांग्ला’’ का भी उद्घाटन किया और एक साइकिल रैली को रवाना किया। नेताजी, खुदीराम बोस और रास बिहारी बोस के नाम पर बनी तीन टीमें स्वतंत्रता सेनानियों के संदेशों को पुहंचाने के लिए 900 किलोमीटर की साइकिल यात्रा करेगी।

Related News

उज्‍जेन: भूगर्भीय हलचल के चलते हो रहे है शिप्रा में धमाके, धमाके के बाद 10 फिट तक उछला पानी, किसी आपदा की चेतावनी या...

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उज्जैन मध्‍यप्रदेश में शिप्रा नदी के त्रिवेणी घाट पर कुछ दिनों से तेज धमाकों के बाद आग की लपटें निकल रही...

पोखरण: सैन्‍य आयुध अभ्यास के दौरान तोप से निकला गोला फटा, एक जवान शहीद

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। सेना की फायरिंग रेंज में अभ्‍यास के दौरान तोप से निकलते ही गोला फट जाने की वजह से एक जवान की...

संपूणार्नंद संस्कृत विश्वविद्यालय के 38 वें दीक्षांत समारोह में बोलीं राज्यपाल- विद्यार्थियों के घरों तक पहुंचेंं उनकी उपाधियां

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मंगलवार को यहां कहा कि  विश्वविद्यालयों में वर्षों से रखी विभिन्न कक्षाओं की  उपाधियां...

अयोध्या: मर्यादा पुरूषोत्तम एयरपोर्ट के लिए योगी सरकार ने खोला खजाना,युद्ध स्तर पर निर्माण कार्य जारी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। अयोध्‍या एयरपोर्ट के विस्‍तारीकरण के लिए योगी सरकार ने खजाना खोल दिया है। अब वह दिन दूर नहीं, जब देश दुनिया...

आईपीएल: मैच मैदान को लेकर हैदराबाद, राजस्थान और पंजाब का पारा गरम, आपत्ति जताई

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। राजस्थान रॉयल्स, पंजाब किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 14वें सत्र के आयोजन स्थलों को लेकर आपत्ति...

पीएम मोदी बोले- कृषि क्षेत्र में प्राइवेट सेक्टर की भागीदारी बेहद जरूरी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि अब समय आ गया है जब कृषि क्षेत्र में प्राइवेट सेक्‍टर का योगदान भी...