drishti haldwani

अहमदाबाद- लोकसभा चुनाव से पहले गुजरात में कांग्रेस को बड़ा झटका, अब इस नेता ने थाम भाजपा का दामन

102

अहमदाबाद-न्यूज टुडे नेटवर्क-गुजरात में लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। कांग्रेस विधायक जवाहर चावड़ा ने आज विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। इसके बाद गांधीनगर में जवाहर चावड़ा भाजपा में शामिल हो गए हैं। कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिल सकता है। जवाहर चावड़ा ने विधानसभा अध्यक्ष डा. राजेंद्र त्रिवेदी को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। राजनीति के गलियारों में यह चर्चा है कि भाजपा ने अल्पेश का विकल्प तलाश लिया है। जवाहर के पिता पेथलजी चावड़ा भी बरसों तक विधायक रह चुके हैं। इससे पहले पिछले महीने मेहसाणा की ऊंझा सीट से पहली बार विधायक बनीं आशा पटेल विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो गई थीं। अब एक और विधायक ने कांग्रेस का दामन छोडक़र बीजेपी ज्वॉइन कर ली है।

iimt haldwani

एक और नेता के आने की संभावना

ओबीसी नेता और कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर ने भी बीजेपी में जा सकते हैं। ठाकोर ने गुरुवार को कहा था कि वह अपने अगले राजनीतिक कदम के बारे में शुक्रवार को फैसला करेंगे।आज शाम तक साफ होगा कि अल्पेश ठाकोर कांग्रेस में रहेंगे या नहीं। राधनपुर के कांग्रेस विधायक ठाकोर ने अपने अगले कदम पर फैसले के लिए गुरुवार को ठाकोर सेना की बैठक बुलाई थी। ठाकोर ने कहा था कि मेरी छवि को नुकसान पहुंचाने के लिए मेरे बारे में अफवाह फैलाई जा रही है। वही हार्दिक पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के कांग्रेस में शामिल होने की चर्चाएं हैं। 12 मार्च को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के बाद पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की मौजूदगी में वे पार्टी में शामिल हो सकते हैं।

चावड़ा के आने से मजबूत हुई भाजपा

गौरतलब है कि जवाहर चावड़ा 2017 में गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 में माणावदर विधानसभा क्षेत्र से विजयी हुए थे। जवाहर चावड़ा ने नितिन को हराया था। चावड़ा ने माणावदर सीट पर 1990, 2007, 2012 और 2017 में जीत दर्ज की थी। वह बीते कुछ महीनों में सदन से इस्तीफा देने वाले कांग्रेस के तीसरे विधायक हैं। पिछले साल जुलाई में कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक कुवंरजी बावलिया ने विधायकी से इस्तीफा दे दिया था और वह भाजपा सरकार में कैबिनेट मंत्री बन गए थे।