नई दिल्ली- फिल्म ‘एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के विरोध पर बोले अनुपम खेर, इस दिन होने जा रही रीलीज

0
126

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के जीवन और कॅरियर पर आधारित फिल्म ‘एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ पर कांग्रेस नेताओं की कड़ी प्रतिक्रियाओं पर टिप्पणी करते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कहा है कि फिल्मों का विरोध करना कांग्रेस के लिए कोई नयी बात नहीं है। पार्टी प्रवक्ता राजीव प्रताप रूढ़ी ने कहा कि पूर्व में भी अन्य फिल्मों के साथ ऐसा हुआ है। इंदिरा गांधी के समय में फिल्म ‘आंधी’ को प्रतिबंधित किया गया था। फिल्म ‘किस्सा कुर्सी का’ के साथ भी ऐसा हुआ हुआ था। कांग्रेस असहिष्णु क्यों हो रही है? अगर इस मुद्दे पर किसी को कुछ कहना है, तो डॉ. मनमोहन सिंह को कहना चाहिए कांग्रेस नेता पी.एल. पुनिया सहित कई नेताओं ने इस फिल्म को लेकर भाजपा की आलोचना की है।

भाजपा ने दिया समर्थन

भाजपा ने इस फिल्म को अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके अपना समर्थन दे दिया है वहीं कांग्रेस सांसद पीएल पुनिया ने इसे ध्यान भटकाने की एक कोशिश बताया है। विवादों के बीच अनुपम खेर ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को एक सलाह दी है। फिल्म में पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह का किरदार निभाने वाले खेर का कहना है कि फिल्म का विरोध करने का कोई मतलब नहीं है। अनुपम खेर ने कहा, ‘जितना ज्यादा वह (कांग्रेस) फिल्म का विरोध करेंगे, फिल्म को इससे उतनी ही लोकप्रियता मिलेगी। किताब 2014 में रिलीज हुई थी तब से अब तक कोई प्रदर्शन नहीं हुआ था जबकि फिल्म द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर आधारित है।’

खेर ने कहा, ‘उनके (कांग्रेस) नेता पर फिल्म बनी है उन्हें खुश होना चाहिए। आपको भीड़ लेकर भेजनी चाहिए फिल्म देखने के लिए क्योंकि उसमें डायलॉग हैं जैसे- मैं देश को बचाउंगा। जिससे लगता है कि कितने महान हैं मनमोहन सिंह जी।’महाराष्ट्र युवा कांग्रेस भी फिल्म का विरोध कर रही है इसपर खेर ने कहा, ‘हाल ही में मैंने राहुल गांधी जी का ट्वीट पढ़ा था। जिसमें अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर उन्होंने बोला था। तो मुझे लगता है कि उनको डांटना चाहिए उन लोगों को कि आप गलत बात कर रहे हो।’

11 जनवरी को हो रही रिलीज

फिल्म के ट्रेलर को ट्विटर पर साझा करते हुए भाजपा ने लिखा, ‘इस फिल्म की कहानी बड़ी दिलचस्प है जो बताती है कि कैसे एक परिवार ने दस सालों तक देश को बंधक बनाकर रखा था। क्या डॉक्टर सिंह केवल तब तक प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठे थे जब तक कि उसका राजनीतिक शासक तैयार न हो जाए? ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का आधिकारिक ट्रेलर देखिए जो अंदरूनी सूत्र के हवाले पर आधारित है। फिल्म 11 जनवरी को रिलीज हो रही है।’