5जी आईओटी कनेक्शन 2026 तक वैश्विक स्तर पर 100 मिलियन से अधिक हो जाएगा : रिपोर्ट

नई दिल्ली, 24 जनवरी (आईएएनएस)। वैश्विक 5जी आईओटी (इंटरनेट ऑफ थिंग्स) कनेक्शन 2026 तक 116 मिलियन तक पहुंच जाएगा, जो 2023 में सिर्फ 17 मिलियन से बढ़ रहा है। मंगलवार को एक नई रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।
 | 
5जी आईओटी कनेक्शन 2026 तक वैश्विक स्तर पर 100 मिलियन से अधिक हो जाएगा : रिपोर्ट नई दिल्ली, 24 जनवरी (आईएएनएस)। वैश्विक 5जी आईओटी (इंटरनेट ऑफ थिंग्स) कनेक्शन 2026 तक 116 मिलियन तक पहुंच जाएगा, जो 2023 में सिर्फ 17 मिलियन से बढ़ रहा है। मंगलवार को एक नई रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

जुनिपर रिसर्च के अनुसार, स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र और स्मार्ट सिटी सेवाएं अगले तीन वर्षो में इस 1,100 प्रतिशत की वृद्धि को आगे बढ़ाएगी।

शोध सह-लेखक ओलिविया विलियम्स ने कहा, 5जी अधिक कुशल और गतिशील स्वास्थ्य सेवा प्रदान करेगा जो 4जी या वाई-फाई के साथ संभव नहीं था। हालांकि, स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं को पहले 5जी को उन क्षेत्रों में लागू करना चाहिए जो निवेश पर विशेष रूप से कनेक्टेड आपातकालीन सेवाएं मजबूत रिटर्न प्रदान करते हैं।

रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि 2026 तक स्वास्थ्य सेवा और स्मार्ट शहरों का बाजार 5जी आईओटी उपकरणों के 60 प्रतिशत से अधिक का होगा।

इसके अलावा, रिपोर्ट में भविष्यवाणी की गई है कि 5जी नेटवर्क की तैनाती की कम लागत और बड़ी मात्रा में डेटा ले जाने की क्षमता के कारण स्मार्ट सिटी सेवाओं में महत्वपूर्ण वृद्धि देखी जाएगी।

chaitanya

2026 तक वैश्विक स्तर पर 60 मिलियन से अधिक 5जी स्मार्ट सिटी कनेक्शन होंगे और रिपोर्ट शहर-नियोजन अधिकारियों से 5जी कनेक्टिविटी को उच्च-बैंडविड्थ गेटवे के रूप में लाभ उठाने का आग्रह करती है।

रिपोर्ट में यह भी पता चला है कि सड़क और रेल नेटवर्क सहित परिवहन नेटवर्क निगरानी महत्वपूर्ण सेवाएं होंगी, जिसके लिए 5जी-सक्षम हाई-बैंडविड्थ सेलुलर कनेक्टिविटी की आवश्यकता होगी।

chaitanya

--आईएएनएस

एसकेके/एएनएम