रुद्रपुर जिलाअस्पताल रो रहा अपनी बदहाली पर आखिर कब बदलेगी तस्वीर

Slider

देश में कोरोना वायरस नाम कि महामारी फेल रही है। महामारी को रोकने के लिए केंद्र और प्रदेश की त्रिवेंद्र रावत सरकार प्रयास कर रही है। जिसके लिए सरकार ने सभी सरकारी विभाग को लोगों को जागरुक और इस माहमारी से बचाने के लिए जिम्मेदारी दी है तो वही सभी विभाग अपनी अपनी जिम्मेदारी को निभाते हुए नजर आ रहा है। लेकिन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी इस महामारी से लड़ने के लिए मात्र खानापूर्ति करते हुए दिखाई दे रहे हैं।

इनका नाम ललित है इनका कहना है कि मैं जिलाअस्पताल में अपना चेकअप कराने आया था लेकिन डॉक्टरों ने मुझे सुबह से इधर से उधर मटका  लेकिन मेरा चेकअप नहीं हो पाया मैं बड़ा ही निराश होकर जा रहा

Slider

यह है रुद्रपुर के जिलाअस्पताल का हाल कुछ तस्वीरें ऐसी हैं जो हम आपको दिखा नहीं सकते देखकर जी घबरा जाएगा

तो वही उधमसिंहनगर का जिलाअस्पताल सुस्त है जिलाअस्पताल जवाहरलाल नेहरू में पानी से लेकर कई सुविधाएं ठप पड़ी है जिला अस्पताल के शौचालय पूरी तरह से चौक हो चुके हैं पानी की व्यवस्था ठप पड़ी है सफाई व्यवस्था ठप पड़ी है चेकअप कराने आए मरीजों को अस्पताल में भटकना पड़ रहा है
कोरोना के वायरस के संपर्क में आए लोगों के लिए 50 बड़ों वाला रूम बनाया गया है उसमें भी कोई स्टाफ मौजूद नहीं है फिलहाल अभी तक कोई महामारी की चपेट में उधमसिंहनगर में नहीं आया है

रुद्रपुर के जिला अस्पताल में शौचालय से लेकर पीने के पानी तक की सेवा ठप

ऐसे में जिलाअस्पताल और प्रशासन पर सवाल उठता है कि पूरा देश में महामारी से बचने के लिए सभी विभाग तरह-तरह के प्रचार कर रहे हैं और लोग भी तरह-तरह के उपाय ढूंढ रहा है तो वही उधमसिंहनगर का जिलाअस्पताल अपनी बदहाली पर रो रहा है भगवान भरोसे चल रही है जिलाअस्पताल

काशीपुर के सरकारी अस्पताल के पीने के पानी की टंकी के पास कितनी सफाई व्यवस्था है आप तस्वीरों में खुद देख सकते हैं

उधमसिंह नगर का यह कोई एक अस्पताल नहीं है उधमसिंहनगर के कई सरकारी अस्पतालों में सुविधाएं ठप पड़ी है और राम भरोसे कहानी चल रही है लोगों को अस्पताल में पीने के पानी से लेकर हाथ धोने तक की दिक्कत आ रही है

वही जब इस मामले में सीएमओ शैलजा भट्ट से बात की गई तो उन ने कहा कि मीडिया द्वारा इस मामले को संज्ञान में लाया गया है जबकि स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी अस्पतालों में सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें