2022 चीन-आसियान मीडिया थिंक टैंक फोरम आयोजित

बीजिंग, 6 अगस्त (आईएएनएस)। 2022 चीन-आसियान मीडिया थिंक टैंक फोरम 5 अगस्त को पेइचिंग में आयोजित हुआ। मंच की थीम वैश्विक विकास: साझा भाग्य और साझा कार्य है, जो चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय के मार्गदर्शन में चीन विदेशी भाषा प्रकाशन प्रशासन, चीनी सामाजिक विज्ञान अकादमी के राष्ट्रीय वैश्विक रणनीति थिंक टैंक, चीन-आसियान केंद्र द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित है।
 | 
2022 चीन-आसियान मीडिया थिंक टैंक फोरम आयोजित बीजिंग, 6 अगस्त (आईएएनएस)। 2022 चीन-आसियान मीडिया थिंक टैंक फोरम 5 अगस्त को पेइचिंग में आयोजित हुआ। मंच की थीम वैश्विक विकास: साझा भाग्य और साझा कार्य है, जो चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय के मार्गदर्शन में चीन विदेशी भाषा प्रकाशन प्रशासन, चीनी सामाजिक विज्ञान अकादमी के राष्ट्रीय वैश्विक रणनीति थिंक टैंक, चीन-आसियान केंद्र द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित है।

चीन और 10 आसियान देशों के अधिकारी, प्रमुख मीडिया के नेता, थिंक टैंक के प्रतिनिधि, विशेषज्ञ और विद्वान सम्मेलन में ऑनलाइन और ऑफलाइन शामिल हुए। उन्होंने वैश्विक विकास पहल के कार्यान्वयन को बढ़ाने और चीन-आसियान व्यापक रणनीतिक साझेदारी को बढ़ाने पर विचारों का आदान-प्रदान किया। चीन ने सितंबर 2021 में वैश्विक विकास पहल पेश की। और इस पहल को अंतरराष्ट्रीय समुदाय की ओर से सकारात्मक प्रतिक्रिया और समर्थन मिला।

chaitanya

इस मंच पर, थाईलैंड के पूर्व प्रधानमंत्री अभिसित वेज्जाजीवा ने कहा कि वैश्विक विकास पहल का उद्देश्य अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के संयुक्त प्रयासों के माध्यम से देशों को 2030 तक संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करना है, जिसे कई देशों और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों की प्रशंसा मिली है।

चीन स्थित लाओस की राजदूत खम्फो एन्र्थावन्हो का मानना है कि चीन और लाओस वैश्विक विकास पहल और आसियान समुदाय विजन 2025 के बीच संबंध को मजबूत कर सकते हैं और गरीबी उन्मूलन, बुनियादी ढांचे के निर्माण, खाद्य और ऊर्जा सुरक्षा में अधिक सहयोग कर सकते हैं।

वियतनाम के सामाजिक विज्ञान अकादमी के दक्षिण-पूर्वी एशिया अनुसंधान संस्थान के निदेशक गुयेन हुआ होआंग ने कहा कि वैश्विक विकास पहल चीन की अन्य देशों के साथ भविष्य का विकास करने और साझा करने की इच्छा को प्रदर्शित करती है और चीन व आसियान को भी करीब लाती है।

चीन-आसियान केंद्र के महासचिव छेन तहाई ने कहा कि चीनी और आसियान मीडिया को महामारी की रोकथाम व नियंत्रण और आर्थिक बहाली जैसे विषयों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, चीन-आसियान विकास की कहानियों को अच्छी तरह से सुनाना चाहिए, और द्विपक्षीय सहयोग को गहरा करने के लिए अनुकूल जनमत वातावरण तैयार करना चाहिए।

सिंगापुर के लियान्हे जाओबाओ अखबार के उप प्रधान संपादक हान योंगहोंग ने कहा कि सूचना युग में मीडिया को सच्चे और उद्देश्यपूर्ण रिपोटरें से देशों के बीच आपसी विश्वास और समझ को बढ़ाने पर जोर देना चाहिए।

मलेशिया के मलाया विश्वविद्यालय के चीनी अध्ययन संस्थान के निदेशक नेगोव चाउ बिंग ने यह सुझाव दिया कि चीन व आशियान के प्रांतों व शहरों के बीच आदान-प्रदान और सहयोग को और गहरा करें, ताकि लोगों के बीच संबंधों को बढ़ाया जा सके।

(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)

--आईएएनएस

आरएचए/