iimt haldwani

हल्द्वानी- DM, SSP ने बनाया Haldwani traffic का नया plan, अब यहाँ से होगा वन वे और यहाँ से करेंगे यू-टर्न

1551

(Haldwani traffic plan ) महानगर की बेतरतीब यातायात व्यवस्था को पटरी पर लाने तथा जाम से मुक्ति दिलाने के लिए जल्द ही महानगर में नया ट्रेफिक प्लान लागू किया जाएगा। शनिवार की देर सायं जिलाधिकारी शिविर कार्यालय में आयोजित सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में जिलाधिकारी श्री सविन बंसल तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार मीणा के सामने सहायक परिवहन अधिकारी डाॅ.गुरदेव सिंह तथा विमल पाण्डे द्वारा नया ट्रेफिक प्लान प्रस्तुत किया गया जिसपर काफी देर तक चर्चा हुई। नए प्लान में परिवहन विभाग ने हल्द्वानी की यातायात व्यवस्था के लिए एमबी काॅलेज से दुर्गा सिटी सेंटर वाले मार्ग को भारी वाहनों हेतु वन वे किया जाए। भारी वाहन एमबी काॅलेज से नवाबी रोड पर कालाढुंगी मार्ग की ओर जाने हेतु मार्ग प्रतिबन्धित किया जाए। सुझाव के अनुसार भारी वाहन मुखानी से पानी की टंकी तक जा सकेंगे लेकिन आना प्रतिबन्धित किया जाए। रोडवेज से वाहन हल्द्वानी स्टेशन से एमबी काॅलेज-दुर्गा सिटी सेंटर से होकर कालाढुंगी मार्ग होते हुए रामनगर को प्रस्थान करें तथा वापसी कालाढुंगी मार्ग- मुखानी चैराहे से कालुसिद्ध मन्दिर होते हुए बस स्टेशन को जाएं। मुखानी चैराहे पर खड़े आॅटो ई-रिक्शा एवं अन्य वाहनों को हटाया जाए तथा मुखानी काठगोदाम मार्ग पर नो पार्किं के बोर्ड लगाए जाए। कालाढुंगी मार्ग पर कालूसिद्ध मंदिर के सामने डिवाईडर पर ऊॅची गिरिल लगवा कर आना-जाना प्रतिबन्धित किया जाए। सरस मार्केट के सामने पैदल यात्रियों के लिए जेबरा क्रोसिंग बनाई जाए।
बैठक में परिवहन विभाग ने सुझाव देते हुए कहा कि महिला अस्पताल से डिवाईडर को महाराजा अग्रसेन चैक तक विस्तार किया जाए। जिससे कोई वाहन महिला अस्पताल के सामने से यू-टर्न न ले सके। सती मिष्ठान भण्डार कालाढुंगी रोड से स्टेण्डर्ड तक जाने वाले गली मार्ग को रामपुर मार्ग पर निकलने हेतु दो पहिया वाहनों को छोड़कर वन वे कर दिया जाए। सुझाव के अनुसार प्रेम टाकीज़ के सामने वर्कशाॅप लाईन से राजपुरा की ओर जाने वाली रेवले क्रोसिंग बन्द होने पर जाम की स्थिति पैदा हो जाती है। इस स्थान पर यदि रेलवे क्रोसिंग बन्द है तो वाहन तिकोनिया मार्ग से होकर राजपुरा की ओर जाए। विभाग ने सुझाव दिया कि नई वनवे की व्यवस्था प्रातः 9 बजे सांय 8 बजे तक रखी जाए।

amarpali haldwani

Haldwani new traffic plan

जिलाधिकारी श्री बंसल ने बताया कि शहर की यातायात व्यवस्था को व्यवस्थित करने के लिए शहर के चारों ओर जो बड़ी सड़के हैं उनका प्रयोग यातायात व्यवस्था मजबूत करने के लिए किया जाएगा, कौशिश होगी कि शहर में आने-जाने वाले इन भारी वाहनों का आवागम शहर के बाहर से हो। उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग ने जो प्लान प्रस्तुत किया है, उस पर गहन मंथन के उपरान्त जल्द ही इसको लागू किया जाएगा।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार मीणा ने प्रस्तुत प्लान में कई स्थान पर संशोधन किए तथा नए सुझाव भी दिए। उन्होंने कहा कि यातायात की समस्या दिन-प्रतिदिन विकराल लेती जा रही है, ऐसे में नए ट्रेफिक प्लान को लागू किया जाना जरूरी है, इसके सभी पहलुओ पर विचार किया जाएगा।
बरसात के दौरान दुर्घटनाओ को रोकने के लिए सड़क सुरक्षा के उपायो को और अधिक कारगर तरीके से लागू करना होगा। यह निर्देश जिलाधिकारी सविन बंसल ने अपने शिविर कार्यालय मे आयोजित सड़क सुरक्षा समिति की बैठक मे अधिकारियो को दिये।
श्री बंसल ने कहा वाहन चलाते समय मोबाइल पर बात करने के अलावा ईयर फोन का इस्तेमाल करने वाले लोगो के ड्राइविंग लाइसैन्स निरस्त किये जांए, तथा वैधानिक कार्यवाही भी अमल मे लाई जायेगी। उन्होने कहा कि बिना बेल्ट के वाहन चलाना, शराब पीकर वाहन चलाना, ईयरफोन लगाकर वाहन चलाना तथा वाहन चलाते समय मोबाइल पर बात करने से वाहन दुर्घटनाओं मे आशातीत वृद्वि हुई है इस प्रकार का कृत्य एक फैशन बनता जा रहा है जिस पर सख्त लगाम लगाने की जरूरत है। उन्होने परिवहन तथा पुलिस महकमे के अधिकारियो से कहा कि वे ऐसा कृत्य करने वालों के खिलाफ कडी कार्यवाही अमल मे लायंे तथा उनका मौेके पर ही ड्राइविंग लाईसेन्स निरस्त कर दिये जाए।
जिलाधिकारी श्री बंसल ने कहा कि ऐसा संज्ञान मे आया है कि नो पार्किग जोन गलियों, सार्वजनिक स्थानों पर काफी लम्बे अर्सो से लोग वाहन खडे करके नदारत है। इससे यातायात प्रभावित रहता है और दुर्घटनायें होती है। सबसे ज्यादा वाहन ठंडी सडक और उसकी गलियों मे पिछले तीन-चार सालों से लावारिस हालातों मेें खडे है। उन्होने सभी उपजिलाधिकारियों एवं पुलिस महकमे के अधिकारी ऐसे वाहनो को हटाये जाने की पहले मुनादी करा दें और उसके बाद ऐसे वाहनों को सडकों से हटाकर सीज करें और सडकों को खाली करायें।
जिलाधिकारी ने कहा कि दुर्घटनाओं में बेतरतीब लगे होर्डिग्स और फ्लैक्सी तथा अनाधिकृत तरीके से कब्जा किये हुये फुटपाथ एक बहुत बडा कारण है। उन्होने नगर निगम के नगर आयुक्त सीएस मर्तोलिया को आदेशित किया है कि वे तत्काल महानगर के चिन्हित वैंडर जोन मे हरे रंग से पट्टी लगाकर बोर्ड लगायें, तथा सुनिश्चित करें कि बैंडर जोन मे ही फुटपाथ विक्रेता अपना कारोबार करें।
श्री बंसल ने कहा कि जब कोई बड़ी सड़क दुर्घटना हो जाती है तो लोग तमाशबीन बनकर तमाशा देखते है और वीडियो फिल्म बनाते है जो कि मानवीय दृष्टिकोण से उचित नही है। अतः हमें चाहिए कि हम घायलो को तत्काल नजदीक के अस्पताल मे पहुचायें। उन्होने उपजिलाधिकारियो को निर्देश दिये कि वह अपने क्षेत्र मे राजकीय एंव निजी चिकित्सालयो की बैठक कर यह जानकारी दें कि दुर्घटना मे घायल लोगो का पूरे मनोयोग से ईलाज करें तथा उसका जीवन बचाने का भरसक प्रयास करें। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के सडको में जहां-जहां दुर्घटना सम्भावित क्षेत्र है उन्हे चिन्हित करे तथा उन जगहों पर क्रैश बैरियर, साईनेज, स्पीड ब्रेकर, रिफ्लेक्टर स्टीकर आदि लगाना सुनिश्चित करें ताकि दुर्घटनाओं पर लगाम लग सके।
जिलाधिकारी नेे कहा कि सडकों पर दुकानदारों द्वारा भवन सामग्री रखे जाने को कड़ी नाराजगी व्यक्त की। उन्होने कहा कि इससे जहां दुर्घटनायें होती है वही जाम की स्थित पैदा होती है। उन्होने कहा सडक किनारे निर्माण सामग्री पायी जाती है तो अर्थदण्ड के साथ ही वैधानिक कार्यवाही भी की जायेगी। उन्होने कहा सडक सुरक्षा का प्रचार प्रसार सिनेमाघरों, केबिल टीवी एवं स्कूलांे में सेमिनार लगाकर इसकी जानकारियां दी जाएं ताकि अधिक से अधिक लोग वाहन चलाते समय टैªफिक के नियमो ंकी जानकारी ले और जिससे दुर्घटनाओं पर लगाम लगाई जा सके। श्री बंसल ने निर्देश दिये कि वाहनो की गति पर लगाम लगाने के लिए स्कूल, अस्पताल, हाटबाजार आदि आवश्यक स्थानों मे स्पीड बे्रकर बनायें ताकि दुर्घटनाओ से बचा जा सके। उन्होने कहा दुपहिया वाहन चलाते समय हैलमेट अनिवार्य रूप से पहनना सुनिश्चित कराया जाए, बिना हैलमेट वाहन चलाने वाले के खिलाफ चालान के साथ ही दण्डात्मक कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।
बैठक में अपर जिलाधिकारी एसएस जंगपांगी, अपर पुलिस अधीक्षक अमित श्रीवास्तव, अधिशासी अभियंता लोनिवि एचएस रावत, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक हीरालाल गौतम, अधिशासी अभियंता लोनिवि महेन्द्र कुमार, उप जिलाधिकारी हरिगिरी गोस्वामी, विवेक राॅय, वीएन शुक्ला, गौरव चिटवाल, अधिशासी अधिकारी राजु नबियाल, प्रतिभा कोहली, सह नगर आयुक्त ब्रजेन्द्र सिंह चैहान आदि मौजूद थे।