iimt haldwani

हल्द्वानी- 18 बच्चों को एक पागल कुत्ते ने शरीर के कई हिस्सों में नोचा, हाईकोर्ट ने निगम को यह ऐसे निर्देश

615

हल्द्वानी में एक पागल कुत्ते ने 13 बच्चों को काट कर घायल कर दिया है।कुत्तों के काटने के बाद उनके परिजनों ने आनन-फानन में बेस चिकित्सालय में बच्चों के इलाज के लिए पहुंचे। अस्पताल पहुंचे बच्चों की हालत स्थिर बनी हुई है । कुछ बच्चों की हालात सही है डॉक्टर का कहना है उनको तत्काल ट्रीटमेंट दिया जा चुका है। पूरे मामले में नगर निगम की लापरवाही के कारण आज 13 बच्चों को एक आवारा कुत्ते ने काट कर जख्मी कर दिया ।यह नगर निगम की लापरवाही है जोकि आवारा कुत्तों को पकड़ने में नाकामयाब हैं । उन कुत्तों को ढूंढकर पकडने में नगर निगम पूरी तरीके से लापरवाही कर रहा है जिसके कारण आए दिन जनता को इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। जनता का कहना है अगर कुत्तों को जल्द से जल्द नहीं पकड़ा गया तो वह उग्र आंदोलन करेंगे नगर निगम अगर जल्दी नहीं चेता तो इसका परिणाम भुगतने के लिए तैयार हो जाए। पार्षद शकील अहमद अंसारी का कहना है नगर निगम को इस तरीके की कई बार सूचना दी जा चुकी है मगर उनके सर पर जूं नहीं रेंग रही है शायद नगर निगम को जैसा कि आज तेरा बच्चों को कुत्तों ने काटा है इसका इंतजार था ऐसा महसूस हो रहा है अगर नगर निगम जल्दी ही इस पर कोई कार्यवाही नहीं करता है तो उसका परिणाम उनको खुद भुगतना पड़ेगा जिन तेरा बच्चों के काटा है उसमें 1.असलम उम्र 13 साल
2.हर्षित उम्र 9 साल
3.हुजैर 9 साल
4.हुंमज़ा 7 साल
5.बासित 9 साल
6.रहमान 6 साल
7.हिरम11 साल
8.फ़राहम 3 साल
9.अनिया 2 साल
10.जेनर 5 साल
11.जातिम 10 साल
12.अरमान 3 साल
13.अतिम 7 साल
के बच्चे शामिल है

drishti haldwani

हाइकोर्ट के निर्देश

आवारा कुत्ते के बढ़ते हमले को देखते हुए नैनीताल हाइकोर्ट ने पूर्व में प्रशासन और निगम को आवारा कुत्तों की नसबंदी व एन्टी रेबीज़ वैक्सीन लगाने के आदेश दिए थे। लेकिन कुछ नहीं हुआ।