हल्द्वानी- आदर्श स्कूल की परिभाषा साकार करेगा स्कूल स्वस्त्ययन, बच्चों को इस प्रणाली से देगा शिक्षा

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: विद्यार्थियों के जीवन में पढ़ाई के साथ-साथ अनुशासन होना जीवन को जीना ला तरीका बदल देता है। शिक्षित होने के साथ ही विद्यार्थियों के लिए बेहद जरूरी है कि वे समाज के तौर तरीके भी जाने। जिससे अपने जीवन में आने वाले हर पड़ाव को वे बिना किसी रुकावट के पार कर सके। इसी को ध्यान में रखते हुए बेहद ही अलग सोच के साथ हल्द्वानी में शीघ्र ही खुलने जा रहा है स्वस्त्ययन पब्लिक स्कूल। स्वस्त्ययन एक समृद्धि प्राप्ती का साधन है। जिसमें आपके बच्चों को सुरक्षित और स्वच्छ वातावरण के साथ ही डीजीटल माध्यम से भी शिक्षा प्रदान की जाएगी। स्वस्त्ययन का लक्ष्य शिक्षा के साथ साथ अपने छात्रों में 5 अलग अलग गुण स्थापित करना है जिससे वह दुनिया मे अपनी छाप छोड़ सके। यह कहना है वाईस चेयरमैन पुनीत अग्रवाल का।

Slider

विद्यालय को नई पहचान देंगे शिक्षविद डॉ बी एस बिष्ट

इस स्कूल में संस्कारों की बात इसलिए कही जा रही है क्योंकि प्रदेश के पूर्व शिक्षा निदेशक डॉ बी एस बिष्ट के प्रबंध निदेश और डॉ रजनीकांत बिष्ट सलाहकार के तौर पर इसका मार्गदर्शन करेंगे। प्रबंध निदेशक डॉ बिष्ट ने बताया कि कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे, उच्च शिक्षा मंत्री डॉ धन सिंह रावत, विधायक कालाढूंगी बंशीधर भगत, विधायक रामनगर दीवान सिंह बिष्ट ,मेयर हल्द्वानी डॉक्टर योगेंद्र पाल सिंह रौतेला, चेयरमैन के यू वी बोर्ड गजराज बिष्ट, मुक्त विश्वविद्यालय के वीसी प्रोफेसर ओ पी एस नेगी सहित कई गणमान्य लोग मौजूद रहेंगे।

बच्चों को ऐसे करेंगे विकसित – प्रधानाचार्य

आज एक निजी होटल में प्रेस वार्ता करके स्कूल की प्रधानाचार्य मिली चौधरी ने कहा कि यहां प्रैक्टिकल ज्ञान देकर देश के लिए विद्यार्थियों को तैयार करेंगे। बच्चे गीली मिट्टी की तरह होते है, जिनकों बच्चपन में जिस तरह ढाला जाए बड़े होकर वैसा ही आकार ले लेते है। एक बच्चे के जीवन को सवारने में जितना योगदान माता पिता का होता है। उससे भी कई अधिक उस स्कूल का होता है जहां से बच्चा शिक्षा ग्रहण करता है। यह केवल किताबी ज्ञान नहीं बल्कि अनुशासन, शिष्टाचार, आत्मविश्वास, सकारात्मक सोच,टाइम मैनेजमेंट,डिसीजन मेकिंग और देशभक्ति के गुण सिखाए जाएंगे। इस अवसर पर मीडिया प्रभारी अजय चौधरी ने आभार व्यक्त किया और कहा की संस्थान के चेयरमैन विष्णु शरण 22 वर्षों से एम आई ई टी ग्रुप के द्वारा शिक्षा जगत में अपना लगातार परचम लहरा रहे हैं जो उत्तराखंड में भी एक बड़ी मिसाल बनाएंगे।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें