inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश सुप्रीम कोर्ट ने शाहीन बाग में प्रदर्शन के मामले पर दिया ये...

सुप्रीम कोर्ट ने शाहीन बाग में प्रदर्शन के मामले पर दिया ये फैसला, कहा सार्वजनिक जगह को कोई नहीं कर सकता है ब्लॉक

मुंबई में हाई अलर्ट जारी, बड़े आतंकी हमले की आशंका

खुफिया विभाग की नई जानकारी के बाद मुंबई के पूरे शहर में हाई अलर्ट (High alert) जारी किया गया है। खुफिया विभाग के मुताबिक...

नेहा कक्कड़ और रोहनप्रीत का रिसेप्शन लुक हुआ वायरल, व्हाइट लहंगे में बेहद खूबसूरत नजर आई नेहा

नेहा कक्कड़ (Neha Kakkar) और रोहनप्रीत (Rohanpreet) ने पंजाब में रिसेप्शन पार्टी (Reception Party) में खूब धूम मचाया। नेहा कक्कड़ के शादी के सभी...

रामदास अठावले कोरोना पॉजिटिव, कल पायल घोष को दिलाई थी सदस्यता

आज रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (Republican Party of India) के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) पाए गए हैं। उन्हें...

यूपी: योगी सरकार के इस फैसले के बाद अब नहीं बचेंगे मानव तस्कर

योगी सरकार ने मानव तस्करी (human trafficking) को रोकने के लिए एक बड़ा कदम उठाया है। प्रदेश में महिला थाने की तर्ज पर हर...

CAT Admit Card 2020: कल जारी होंगे कैट के एडमिट कार्ड, कोरोना के चलते परीक्षा में किया गया ये बदलाव

भारतीय प्रबंधन संस्थान (IIM) इंदौर ने देश के टॉप प्रबंधन संस्थानों में एडमिशन के लिए प्रस्तावित कॉमन एडमिशन टेस्ट (CAT) के एडमिट कार्ड बुधवार...

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने दिल्ली के शाहीन बाग में हुए सीएए (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन को लेकर बड़ा फैसला दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सार्वजनिक स्थानों (Public Places) पर धरना प्रदर्शन करना सही नहीं है, इससे आने-जाने के अधिकार को नहीं रोका जा सकता। किसी भी प्रदर्शन (Protest) के नाम पर सार्वजनिक स्थानों पर बाधा पैदा करके पब्लिक एरिया को ब्लॉक नहीं किया जा सकता है।
Shaheen-Baghसुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सार्वजनिक जगहों पर अनिश्चितकाल तक प्रदर्शन नहीं हो सकता है चाहे वह शाहीन बाग (Shaheen Bagh) हो या कोई और जगह। कोर्ट ने कहा है कि निर्धारित जगहों पर ही प्रदर्शन किया जाना चाहिए। साथ ही विरोध और आने-जाने के अधिकार में संतुलन बनाना भी जरूरी है।

https://www.narayan98.co.in/

Narayan College

https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

दिल्ली के शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ लगभग 100 दिनों तक लोग सड़क रोक कर बैठे थे। दिल्ली को नोएडा और फरीदाबाद से जोड़ने वाले अहम रास्ते को रोके जाने से लाखों लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। इसके खिलाफ वकील अमित साहनी और बीजेपी नेता नंद किशोर गर्ग ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। याचिका में अनुरोध किया गया था कि भविष्य में ऐसी स्थिति से बचाव के लिए कुछ निर्देश दिए जाएं।

Related News

मुंबई में हाई अलर्ट जारी, बड़े आतंकी हमले की आशंका

खुफिया विभाग की नई जानकारी के बाद मुंबई के पूरे शहर में हाई अलर्ट (High alert) जारी किया गया है। खुफिया विभाग के मुताबिक...

नेहा कक्कड़ और रोहनप्रीत का रिसेप्शन लुक हुआ वायरल, व्हाइट लहंगे में बेहद खूबसूरत नजर आई नेहा

नेहा कक्कड़ (Neha Kakkar) और रोहनप्रीत (Rohanpreet) ने पंजाब में रिसेप्शन पार्टी (Reception Party) में खूब धूम मचाया। नेहा कक्कड़ के शादी के सभी...

रामदास अठावले कोरोना पॉजिटिव, कल पायल घोष को दिलाई थी सदस्यता

आज रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (Republican Party of India) के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) पाए गए हैं। उन्हें...

यूपी: योगी सरकार के इस फैसले के बाद अब नहीं बचेंगे मानव तस्कर

योगी सरकार ने मानव तस्करी (human trafficking) को रोकने के लिए एक बड़ा कदम उठाया है। प्रदेश में महिला थाने की तर्ज पर हर...

CAT Admit Card 2020: कल जारी होंगे कैट के एडमिट कार्ड, कोरोना के चलते परीक्षा में किया गया ये बदलाव

भारतीय प्रबंधन संस्थान (IIM) इंदौर ने देश के टॉप प्रबंधन संस्थानों में एडमिशन के लिए प्रस्तावित कॉमन एडमिशन टेस्ट (CAT) के एडमिट कार्ड बुधवार...

Hathras Case: SC का अहम फैसला, हाईकोर्ट करेगा जांच की मॉनिटरिंग

सुप्रीम कोर्ट ने आज हाथरस (Hathras) मामले में अपना फैसला सुना दिया है। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने फैसला दिया कि सीबीआई अपनी जांच...