सुखोई, राफेल सहित 45 लड़ाकू विमानों ने किया कर्तव्य पथ पर फ्लाई पास्ट

नई दिल्ली, 26 जनवरी (आईएएनएस)। गणतंत्र दिवस परेड का एक बड़ा रोमांच वायु सेना के जहाजों का फ्लाई पास्ट रहा। सुखोई और राफेल जैसे आधुनिकतम लड़ाकू विमान कर्तव्य पथ पर बेहतरीन फॉरमेशन बनाते हुए नजर आए। भारतीय वायु सेना के 45 विमानों, भारतीय नौसेना के एक और भारतीय सेना के चार हेलीकॉप्टरों द्वारा एक सांसों को थाम देने वाला एयर शो दिखाया। इसके अलावा गणतंत्र दिवस परेड में मोटरसाइकिल प्रदर्शन का शो एक बड़ा आकर्षण रहा।
 | 
नई दिल्ली, 26 जनवरी (आईएएनएस)। गणतंत्र दिवस परेड का एक बड़ा रोमांच वायु सेना के जहाजों का फ्लाई पास्ट रहा। सुखोई और राफेल जैसे आधुनिकतम लड़ाकू विमान कर्तव्य पथ पर बेहतरीन फॉरमेशन बनाते हुए नजर आए। भारतीय वायु सेना के 45 विमानों, भारतीय नौसेना के एक और भारतीय सेना के चार हेलीकॉप्टरों द्वारा एक सांसों को थाम देने वाला एयर शो दिखाया। इसके अलावा गणतंत्र दिवस परेड में मोटरसाइकिल प्रदर्शन का शो एक बड़ा आकर्षण रहा।

राफेल, सुखोई, मिग जैसे विमानों ने कर्तव्य पथ के ऊपर, बाज, प्रचंड, तिरंगा, तंगैल, वजरंग, गरुड़, भीम, अमृत और त्रिशूल सहित विभिन्न रूपों को प्रदर्शित किया। आकाश में अलग-अलग फॉरमेशन बनाते हुए इन लड़ाकू विमानों ने आसमान में अपनी गर्जना और प्रदर्शन से लोगों का मन मोह लिया। इसके साथ ही वायु सेना के राफेल लड़ाकू विमान द्वारा समापन वर्टिकल चार्ली युद्धाभ्यास किया गया।

फ्लाई पास्ट ग्रैंड फिनाले और परेड का सबसे उत्सुकता से प्रतीक्षित खंड, फ्लाई पास्ट था। भारतीय वायु सेना के 45 विमानों में राफेल, मिग-29, एसयू-30, सुखोई-30 एमकेआई जगुआर, सी-130, सी-17, डोर्नियर, डकोटा, एलसीएच प्रचंड, अपाचे, सारंग और एईडब्ल्यूएंडसी जैसे पुराने और आधुनिक विमान व हेलीकॉप्टर कर्तव्य पथ पर आयोजित फ्लाई पास्ट में शामिल हुए। समारोह का समापन राष्ट्रगान और तिरंगे के गुब्बारे छोड़े जाने के साथ हुआ।

chaitanya

गणतंत्र दिवस परेड में मोटरसाइकिल प्रदर्शन का शो एक बड़ा आकर्षण रहा। यहां कॉर्प्स ऑफ सिग्नल की डेयर डेविल्स टीम द्वारा एक रोमांचक मोटरसाइकिल प्रदर्शन किया। उन्होंने मोटरसाइकिल पर विभिन्न प्रकार की संरचनाओं से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया। इसमें मोटरसाइकिल पर योग का प्रदर्शन और मोटरसाइकिल पर ऊंची सीढ़ी लगाकर राइडिंग करना भी शामिल रहा।

chaitanya

गणतंत्र दिवस परेड में शामिल हुए मुख्य युद्धक टैंक अर्जुन, नाग मिसाइल सिस्टम (एनएएमआईएस), बीएमपी-2 एसएआरएटीएच का इन्फैंट्री कॉम्बैट व्हीकल, क्विक रिएक्शन फाइटिंग व्हीकल, के-9 वज्र-ट्रैक्ड सेल्फ-प्रोपेल्ड होवित्जर गन, ब्रह्मोस मिसाइल, 10 मीटर शॉर्ट स्पैन ब्रिज, मोबाइल माइक्रोवेव नोड और मैकेनाइज्ड कॉलम में मोबाइल नेटवर्क सेंटर और आकाश (नई पीढ़ी के उपकरण) मुख्य आकर्षण रहे।

मैकेनाइज्ड इन्फैंट्री रेजिमेंट, पंजाब रेजिमेंट, मराठा लाइट इन्फैंट्री रेजिमेंट, डोगरा रेजिमेंट, बिहार रेजिमेंट और गोरखा ब्रिगेड सहित सेना की कुल छह टुकड़ियां शानदार परेड करते हुए सलामी मंच से आगे बढ़ी। खास बात यह रही कि इस बार के गणतंत्र दिवस समारोह में अग्निवीर भी शामिल हुए।

इंडियन कोस्ट गार्ड (आईसीजी) माचिर्ंग दल का नेतृत्व डिप्टी कमांडेंट रोहित सिंह ने किया। आईसीजी, 157 जहाजों और 78 विमानों के साथ, समुद्र में और समुद्र के खतरों का मुकाबला करने में सक्षम है। आईसीजी की निरंतर निगरानी ने इसकी स्थापना के बाद से 14,546 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के प्रतिबंधित पदार्थ की जब्ती की है, जिसमें अकेले 2022 में 2,620 करोड़ रुपये शामिल हैं। इसकी पहुंच और क्षमता का प्रदर्शन आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप में दूर-दराज के 100 आबाद और गैर-आबादी वाले द्वीपों पर ध्वजारोहण के दौरान किया गया।

साथ ही कर्तव्य पथ पर मार्च करते हुए सहायक कमांडेंट पूनम गुप्ता के नेतृत्व में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), सहायक सुरक्षा आयुक्त सौरव कुमार के नेतृत्व में रेलवे सुरक्षा बल और सहायक पुलिस आयुक्त श्वेता एस सुगथन के नेतृत्व में दिल्ली पुलिस के दल थे। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की ऊंट टुकड़ी डिप्टी कमांडेंट मनोहर सिंह खीची की कमान में सलामी मंच से मार्च पास्ट किया। पहली बार महिला ऊंट सवार परेड में भाग लिया, जो विभिन्न क्षेत्रों में महिला सशक्तिकरण का प्रदर्शन करती हैं।

राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) लड़कों की माचिर्ंग टुकड़ी, जिसमें 148 वरिष्ठ डिवीजन कैडेट शामिल हैं, का नेतृत्व महाराष्ट्र निदेशालय के वरिष्ठ अवर अधिकारी पुजारी शिवानंद ने किया। ओडिशा निदेशालय की वरिष्ठ अवर अधिकारी सोनाली साहू सभी 17 निदेशालयों से लिए गए 148 वरिष्ठ डिवीजन कैडेटों वाली एनसीसी गर्ल्स माचिर्ंग टुकड़ी का नेतृत्व किया।

--आईएएनएस

जीसीबी/एसकेपी