BAREILLY: कुत्‍ता काटे के मरीजों को खूूब रुला रहा बरेली का यह अस्‍पताल

 बरेली: इन दिनों आवारा कुत्तों (Stray Dogs) का आतंक शहर से ग्रामीण क्षेत्रों में फैला हुआ है। आवारा कुत्तों के काटने के बाद जब मरीज जिला अस्पताल (District Hospital) में पहुंचते हैं तो उनको वैक्सीन (Vaccine) न मिलने के कारण परेशानी का सामना करना पड़ता है।
ANTI RABIES VACCINATIONजब रेबीज वैक्सीन (Rabies vaccine) के बारे में डॉक्टर से जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि शासन (Governance) द्वारा रेबीज वैक्सीन की पूरी मात्रा इस समय उपलब्ध कराई जा रही है। और कुत्ते के काटे मरीजों का पूरी तरीके से इलाज किया जरा रहा है।

पिछले दिनों स्विमिंग थाना क्षेत्र के गांव बलिया में आवारा कुत्तों ने एक 4 साल की बच्ची को अपना शिकार बनाया और उसे गंभीर अवस्था में अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। आवारा कुत्ते बच्चों पर हमला कर देते हैं उसके बावजूद देहात की सभी PHC और CHC में रेबीज वैक्सीन की कमी के कारण लोगों को जिला अस्पताल का सहारा लेना पड़ता है जिसके कारण जिला अस्पताल में मरीजों की भीड़ एकत्र हो जाती है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें