सरकार स्पष्ट करे- क्या जवाहिरी को मारने के लिए पाक हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल हुआ?

इस्लामाबाद, 6 अगस्त (आईएएनएस)। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) नेता फवाद चौधरी ने शनिवार को कहा कि सवाल अल कायदा नेता अयमान अल जवाहिरी को मारने वाले अमेरिकी ड्रोन हमले में पाकिस्तान की धरती के इस्तेमाल का नहीं है, बल्कि इसके हवाई क्षेत्र के बारे में है। विपक्षी नेता ने मंत्रालयों से इस संबंध में औपचारिक बयान की मांग की है।
 | 
सरकार स्पष्ट करे- क्या जवाहिरी को मारने के लिए पाक हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल हुआ? इस्लामाबाद, 6 अगस्त (आईएएनएस)। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) नेता फवाद चौधरी ने शनिवार को कहा कि सवाल अल कायदा नेता अयमान अल जवाहिरी को मारने वाले अमेरिकी ड्रोन हमले में पाकिस्तान की धरती के इस्तेमाल का नहीं है, बल्कि इसके हवाई क्षेत्र के बारे में है। विपक्षी नेता ने मंत्रालयों से इस संबंध में औपचारिक बयान की मांग की है।

डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्व मंत्री, इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के महानिदेशक (डीजी) बाबर इफ्तिखार की हालिया टिप्पणी का जिक्र कर रहे थे।

शुक्रवार रात जियो न्यूज के साथ एक संक्षिप्त साक्षात्कार में, आईएसपीआर के डीजी ने इस संभावना से इनकार करते हुए कहा कि इस तरह के उद्देश्य के लिए पाकिस्तान की धरती का इस्तेमाल करने का कोई सवाल ही नहीं है।

chaitanya

चौधरी ने शनिवार को एक ट्वीट में लिखा है कि सवाल यह है कि क्या पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल किया गया या नहीं?

डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, चौधरी ने आगे कहा, पाकिस्तान की जमीन का इस्तेमाल नहीं किए जाने के बारे में बार-बार बयान देना स्पष्टता जाहिर नहीं कर रहा है।

चौधरी ने शुक्रवार को एक संवाददाता सम्मेलन में यह जानने की मांग की कि क्या अमेरिका ने हाल ही में जवाहिरी को मारने वाले ड्रोन हमले के लिए पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल किया था?

उन्होंने कहा, देश जानना चाहता है कि क्या हम फिर से अल कायदा के खिलाफ अमेरिका का हथियार बनने जा रहे हैं।

जियो न्यूज पर इस मामले के बारे में पूछे जाने पर डीजी, आईएसपीआर ने कहा, विदेश कार्यालय ने इसे विस्तार से स्पष्ट किया है। वे सभी अफवाहें हैं, क्योंकि कोई भी सोशल मीडिया पर कुछ भी लिख सकता है। हमें इससे बचना चाहिए। हमारा दुश्मन खासतौर पर ऐसी सूचनाओं को बढ़ावा देते हैं।

दरअसल अमेरिका ने दावा किया है कि अफगानिस्तान में एक अमेरिकी ड्रोन हमले में अल-कायदा सरगना अयमान अल-जवाहिरी मारा गया। इस पर अब पाकिस्तान में सियासत गरमा गई है। पाकिस्तान की शहबाज शरीफ शरीफ सरकार का दावा है कि इस हमले में पाकिस्तान की जमीन का इस्तेमाल नहीं हुआ है। वहीं दूसरी ओर विपक्ष इसे लेकर सवाल उठा रहा है। विपक्षी नेता फवाद चौधरी ने इस बारे में सरकार से स्पष्ट तौर पर एक बयान जारी करने को कहा है।

--आईएएनएस

एकेके/एसकेपी