Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश सरकार के पास होगा सोशल मीडिया का पूरा डाटा

सरकार के पास होगा सोशल मीडिया का पूरा डाटा

Bareilly: फीस के लिए अभिभावकों की लड़ाई में साथ खड़े हुए ये संगठन, जानें क्या कहा

अभिभावकों और स्कूलों के बीच तनातनी का माहौल चल रहा है। शिकायतें आ रही हैं कि स्कूल प्रबंधन अभिभावकों पर फीस के लिए दबाव...

सीएम ने 10 लाख मीट्रिक टन धान का लक्ष्य रखा, जानिए किसानों को मिलेंगी क्या सुविधाएं

देहरादून । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गुरुवार को सचिवालय में खरीफ खरीद सत्र 2020-21 के लिए धान क्रय सम्बन्धी व्यवस्थाओं की समीक्षा की...

हल्द्वानी-दबंग मंत्री रेखा आर्य ने धो-धोकर सुनाई हरीश रावत को,सुनने वाले दंग रह गए

भाजपा सरकार की पशुपालन मंत्री रेखा आर्य के खिलाफ टिप्पणी करना पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को भारी पड़ गया है। रावत में...

रुद्रपुर में किसानों की बड़ी पंचायत कल होगी, केंद्र सरकार के कृषि अध्यादेश का होगा विरोध

रुद्रपुर । केंद्र सरकार के अध्यादेशों के खिलाफ कल रुद्रपुर में किसानों की बड़ी पंचायत होगी, जिसमें किसान नेता बीएम सिंह मौजूद रहेंगे । किसान...

सितारगंज के ये युवक करते थे अपवित्र काम पुलिस के हत्थे चढ़े तो कबूला सारा सच

संवाददाता- अनुराग शुक्ला स्थान- सितारगंज पुलिस व गोवंश स्क्वायड की संयुक्त टीम ने ग्राम बघोरी में छापा मारकर एक कुंटल प्रतिबंधित गौ मांस के साथ चार...

केंद्र सरकार (Central Government) सोशल मीडिया (Social Media) मैसेजिंग एप के लिए एक नया कानून बना रही है। यह कानून इस महीने के अंत तक आने की संभावना है। इस कानून के अंतर्गत फेसबुक (facebook), ट्विटर (Tiwtter),  यूट्यूब (Youtube) और टिक टॉक (TikTok) को सरकारी एजेंसियों द्वारा मांगे जाने पर यूजर्स का डाटा देना होगा। नए कानून के आने से देश के करीब 40 करोड़ सोशल मीडिया यूजर्स (Social Media Users) की गोपनीयता खत्म हो जाएगी।

aaps

भारत सरकार (Indian Government) ने सोशल मीडिया से संबंधित निर्देश दिसंबर, 2018 में जारी किए थे, और इस पर आम लोगों से सुझाव मांगे थे। इस कानून में सोशल मीडिया कंपनियों को सरकार के आदेश पर 72 घंटे के अंदर पोस्ट करने वाले का पता बताने का नियम है। इसके लिए कम से कम 180 दिन का रिकॉर्ड सुरक्षित रखना आवश्यक है। यह नियम 50 लाख से अधिक यूजर्स वाली सोशल मीडिया कंपनियों के लिए है। विदेशी यूजर्स इस कानून के अंर्तगत आएंगे या नहीं यह भी साफ नहीं किया है।

Uttarakhand Government

व्हाट्सएप ने इस नियम को मानने से ऐतराज जताया और कहा कि हम अपनी सुरक्षा से कोई समझौता नहीं करेंगे क्योंकि इससे यूजर्स असुरक्षित महसूस करेंगे। सोशल मीडिया पर फेक न्‍यूज, आतंकवाद से रिलेटेड बहुत सारे कंटेंट आते रहते हैं। इसको रोकने के लिए सरकार यह नया नियम बना रही है। भारत में सोशल  मीडिया कंपनियों को सरकार का यह नियम बिना किसी वारंट या अदालत के निर्देश के मानना होगा।

दुनिया में फेक अकाउंट की गिनती बहुत अधिक हो गयी हैं। फेसबुक पर पूरी दुनिया में 27.5 नकली या फर्जी खाते हो सकते। सोशल मीडिया कंपनी ने बताया कि 31 दिसंबर 2019 तक लगभग 2.5 अरब काउंट मंथली एक्टिव हैं। कंपनी के मुताबिक 2018 में यह संख्या लगभग 8% बढ़ गई है। भारत, इंडोनेशिया और फिलीपींस जैसे देशों में यूजर्स की संख्‍या सबसे अधिक है।

Related News

Bareilly: फीस के लिए अभिभावकों की लड़ाई में साथ खड़े हुए ये संगठन, जानें क्या कहा

अभिभावकों और स्कूलों के बीच तनातनी का माहौल चल रहा है। शिकायतें आ रही हैं कि स्कूल प्रबंधन अभिभावकों पर फीस के लिए दबाव...

सीएम ने 10 लाख मीट्रिक टन धान का लक्ष्य रखा, जानिए किसानों को मिलेंगी क्या सुविधाएं

देहरादून । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गुरुवार को सचिवालय में खरीफ खरीद सत्र 2020-21 के लिए धान क्रय सम्बन्धी व्यवस्थाओं की समीक्षा की...

हल्द्वानी-दबंग मंत्री रेखा आर्य ने धो-धोकर सुनाई हरीश रावत को,सुनने वाले दंग रह गए

भाजपा सरकार की पशुपालन मंत्री रेखा आर्य के खिलाफ टिप्पणी करना पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को भारी पड़ गया है। रावत में...

रुद्रपुर में किसानों की बड़ी पंचायत कल होगी, केंद्र सरकार के कृषि अध्यादेश का होगा विरोध

रुद्रपुर । केंद्र सरकार के अध्यादेशों के खिलाफ कल रुद्रपुर में किसानों की बड़ी पंचायत होगी, जिसमें किसान नेता बीएम सिंह मौजूद रहेंगे । किसान...

सितारगंज के ये युवक करते थे अपवित्र काम पुलिस के हत्थे चढ़े तो कबूला सारा सच

संवाददाता- अनुराग शुक्ला स्थान- सितारगंज पुलिस व गोवंश स्क्वायड की संयुक्त टीम ने ग्राम बघोरी में छापा मारकर एक कुंटल प्रतिबंधित गौ मांस के साथ चार...

रुद्रपुर: हजारों लोगों में विधायक ठुकराल ने इस तरह जगाई उम्मीद की किरण

रुद्रपुर । ट्रांजिट कैंप इलाके में बसे लोगों को मालिकाना हक देने के लिए विधायक राजकुमार ठुकराल ने पहल शुरू की है । उन्होंने...