सत्येंद्र जैन ने जेल वाले वीडियो के प्रसारण पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका वापस ली

नई दिल्ली, 24 नवंबर (आईएएनएस)। जेल में बंद आप नेता और दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने गुरुवार को दिल्ली की एक अदालत में दायर अपनी याचिका वापस ले ली, जिसमें मीडिया को जेल के वायरल सीसीटीवी फुटेज प्रसारित करने से रोकने का निर्देश देने की मांग की गई थी।
 | 
सत्येंद्र जैन ने जेल वाले वीडियो के प्रसारण पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका वापस ली नई दिल्ली, 24 नवंबर (आईएएनएस)। जेल में बंद आप नेता और दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने गुरुवार को दिल्ली की एक अदालत में दायर अपनी याचिका वापस ले ली, जिसमें मीडिया को जेल के वायरल सीसीटीवी फुटेज प्रसारित करने से रोकने का निर्देश देने की मांग की गई थी।

सूत्रों के मुताबिक, जैन इस मामले को दिल्ली हाई कोर्ट ले जाना चाहेंगे। एक स्थानीय अदालत में जैन की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता राहुल मेहरा ने विशेष न्यायाधीश विकास ढुल को बताया कि पहले वायरल वीडियो के मामले की सुनवाई मंगलवार को हुई, और फिर बुधवार सुबह और फुटेज लीक हो गए।

chaitanya

मेहरा ने कोर्ट में कहा, जेल में कुछ बड़ा चल रहा है, यह दिखाने के लिए उन्होंने एक विशेष दिन और एक विशेष समय लिया है। कृपया हर चीज की जांच करें..हम इसमें शामिल नहीं हो रहे हैं। आज एक रिलीज, कल दूसरी रिलीज..।

जहां एक क्लिप में कथित तौर पर जैन को जेल की कोठरी के अंदर मालिश करते हुए दिखाया गया है, वहीं दूसरी क्लिप में उन्हें बाहर का भोजम करते हुए दिखाया गया है, जिससे राजनीतिक हलकों में नाराजगी है।

जैन को 30 मई को धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत गिरफ्तार किया गया था। वह कथित मनी लॉन्ड्रिंग के लिए इस्तेमाल की जाने वाली शेल कंपनियों के वास्तविक नियंत्रण में थे, जबकि सह-आरोपी व्यक्ति- अंकुश जैन और वैभव जैन- सिर्फ डमी थे।

ईडी ने इफको के प्रबंध निदेशक उदय शंकर अवस्थी, पंकज जैन, ज्योति ट्रेडिंग कॉर्पोरेशन और रेयर अर्थ ग्रुप, दुबई के प्रमोटर, अमरेंद्र धारी सिंह और अन्य संदिग्धों के खिलाफ दर्ज सीबीआई प्राथमिकी के आधार पर धनशोधन की जांच शुरू की थी। सीबीआई ने जैन पर आपराधिक साजिश रचने, धोखाधड़ी और आपराधिक कदाचार करने का आरोप लगाया था।

--आईएएनएस

केसी/एएनएम