संवैधानिक प्रक्रिया के तहत निरस्त हुई है धारा -370, कश्मीर को लेकर राहुल गांधी ने दिया है गैर जिम्मेदाराना बयान : रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ली, 24 जनवरी (आईएएनएस)। कश्मीर को लेकर राहुल गांधी द्वारा दिए गए बयान की कड़ी आलोचना करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि कश्मीर एक बहुत ही संवेदनशील प्रदेश रहा है और कश्मीर को लेकर राहुल गांधी ने बहुत ही गैर जिम्मेदाराना बयान दिया है।
 | 
नई दिल्ली, 24 जनवरी (आईएएनएस)। कश्मीर को लेकर राहुल गांधी द्वारा दिए गए बयान की कड़ी आलोचना करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि कश्मीर एक बहुत ही संवेदनशील प्रदेश रहा है और कश्मीर को लेकर राहुल गांधी ने बहुत ही गैर जिम्मेदाराना बयान दिया है।

भाजपा मुख्यालय में मीडिया से बात करते हुए रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी के बयान को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहा कि धारा -370 अब अतीत की बात हो चुकी है और एक संवैधानिक प्रक्रिया के तहत धारा -370 को निरस्त किया गया था। उन्होंने राहुल गांधी को चुनौती देते हुए कहा कि इसे वापस लाने के लिए दो तिहाई बहुमत की जरूरत होगी और क्या उन्हें (राहुल गांधी ) यह लगता है कि कांग्रेस को अब कभी दो तिहाई बहुमत मिल पाएगा।

भाजपा नेता ने कहा कि धारा-370 के हटने के बाद कश्मीर की जनता अपनी वास्तविक आजादी का लुत्फ उठा रही है, वहां के लोग अब देश की मुख्यधारा में शामिल हो रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में राज्य में तेजी से विकास हो रहा है, कश्मीर में स्टार्टअप आ रहा है, एम्स बन रहा है, वहां के बच्चों के लिए क्रिकेट खेलने के मौके बढ़ रहे हैं, कश्मीर के बच्चे आज आईएएस-आईपीएस बन रहे हैं। राज्य के लोगों के लिए रोजगार का सबसे बड़ा साधन माने जाने वाले पर्यटकों की संख्या में पहले की तुलना में कई गुना ज्यादा इजाफा हो रहा है।

chaitanya

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि होम वर्क करके बोलना राहुल गांधी की फितरत नहीं रही है। उन्होंने उपराज्यपाल को लेकर जिस तरह की टिप्पणी की है वह बहुत ही शर्मनाक और गैर जिम्मेदाराना है।

भाजपा नेता ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री दोनों यह कह चुके हैं कि वहां चुनाव होंगे तो फिर राहुल गांधी यह किस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं।

chaitanya

--आईएएनएस

एसटीपी/एएनएम