संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने आतंकवाद के खिलाफ डेटा आधारित लड़ाई किया आह्वान

संयुक्त राष्ट्र, 26 जनवरी (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेस ने कहा है कि डेटा आधारित टूल्स और रणनीतियों को आतंकवाद विरोधी प्रयासों में इस्तेमाल करना चाहिए।
 | 
संयुक्त राष्ट्र, 26 जनवरी (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेस ने कहा है कि डेटा आधारित टूल्स और रणनीतियों को आतंकवाद विरोधी प्रयासों में इस्तेमाल करना चाहिए।

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार यूएन ग्लोबल काउंटर-टेररिज्म कोऑर्डिनेशन कॉम्पैक्ट की एक बैठक में उन्होंने कहा, डेटा आर्थिक, व्यावसायिक और सामाजिक जीवन के हर पहलू को संचालित करता है।

गुटेरेस ने कहा, एक कानूनविहीन साइबर स्पेस के साथ डेटा संयुक्त रूप से आतंक और अपराध की आपस में जुड़ी हुई दुनिया को बढ़ावा देता है।

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा, आतंकवाद के खिलाफ हमारी लड़ाई को एक कदम आगे रहने की जरूरत है। लेकिन जब डेटा संग्रह, विश्लेषण और रणनीतिक उपयोग की बात आती है, तो हम कई कदम पीछे हैं।

गुटेरेस ने कहा कि तेजी से उभर रहे आतंकवाद के खतरे के लिए डेटा और सबूतों के आधार पर एक चुस्त कार्रवाई की आवश्यकता है।

chaitanya

उन्होंने कहा, आतंकवाद-विरोधी प्रयासों सहित शांति और सुरक्षा के निर्माण के लिए हमें अपने ²ष्टिकोण के केंद्र में डेटा-चालित उपकरणों और रणनीतियों को रखने की आवश्यकता है।

गुटेरेस ने कहा कि आतंकवाद से लड़ने वालों को आतंकवाद की रोकथाम गतिविधियों और नीतियों की प्रभावशीलता का मूल्यांकन करने और मानवाधिकारों को बरकरार रखने के लिए डेटा और साक्ष्य का उपयोग करने की आवश्यकता है।

chaitanya

महासचिव ने कहा, आतंकवाद का मुकाबला कभी भी लोगों के मानवाधिकारों को कुचलने के बहाने के रूप में नहीं किया जाना चाहिए, उन्होंने कहा कि जब मानवाधिकारों की रक्षा की जाती है, हम वास्तव में आतंकवाद के कई मूल कारणों से निपट रहे होते हैं।

गुटेरेस ने कहा, हर कदम पर, हमें इस कॉम्पैक्ट और इसके कार्य समूहों की आवश्यकता है कि वे संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों और अन्य भागीदारों के साथ घनिष्ठ संबंध बनाना जारी रखें, ताकि अंतर्²ष्टि, प्रभाव और अखंडता के लिए डेटा इकट्ठा, विश्लेषण और तैनात किया जा सके।

--आईएएनएस

सीबीटी