शिक्षक घोटाला : ईडी अगले हफ्ते माणिक भट्टाचार्य की पत्नी, बेटे से करेगी पूछताछ

कोलकाता, 24 नवंबर (आईएएनएस)। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) पश्चिम बंगाल में करोड़ों रुपये के शिक्षक भर्ती अनियमितताओं की चल रही जांच के सिलसिले में तृणमूल कांग्रेस के विधायक और प्राथमिक शिक्षा बोर्ड (डब्ल्यूबीबीपीई) के पूर्व अध्यक्ष माणिक भट्टाचार्य की पत्नी और बेटे से पूछताछ करेगा।
 | 
शिक्षक घोटाला : ईडी अगले हफ्ते माणिक भट्टाचार्य की पत्नी, बेटे से करेगी पूछताछ कोलकाता, 24 नवंबर (आईएएनएस)। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) पश्चिम बंगाल में करोड़ों रुपये के शिक्षक भर्ती अनियमितताओं की चल रही जांच के सिलसिले में तृणमूल कांग्रेस के विधायक और प्राथमिक शिक्षा बोर्ड (डब्ल्यूबीबीपीई) के पूर्व अध्यक्ष माणिक भट्टाचार्य की पत्नी और बेटे से पूछताछ करेगा।

ईडी सूत्रों के मुताबिक, भट्टाचार्य के बेटे सौविक भट्टाचार्य को अगले सप्ताह कोलकाता में जांच एजेंसी के कार्यालय में पहले ही तलब किया जा चुका है। इसी तरह का समन उनकी पत्नी को अगले हफ्ते पूछताछ के लिए बुलाने के लिए जारी किया जाएगा।

हालांकि केंद्रीय एजेंसी दो अलग-अलग कारणों से बेटे और पति से पूछताछ करना चाहती है। सौविक भट्टाचार्य से उनकी एजेंसी के 2.64 करोड़ रुपये के एक समझौते के संबंध में अखिल भारतीय शिक्षक प्रशिक्षण अचीवर्स एसोसिएशन, राज्य के विभिन्न निजी शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालयों के एक संगठन के संबंध में पूछताछ की जाएगी।

chaitanya

दूसरी ओर, भट्टाचार्य की पत्नी सतरूपा भट्टाचार्य से 2.97 रुपये की जमा राशि वाले बैंक खाते के संबंध में पूछताछ की जाएगी, जिसे उन्होंने एक मृत व्यक्ति मृत्युंजय चक्रवर्ती के साथ संयुक्त रूप से रखा था।

अक्टूबर में, ईडी ने एक विशेष अदालत को सूचित किया कि उक्त बैंक खाते को सक्रिय रखने के लिए केवाईसी दस्तावेजों के रूप में मृत व्यक्ति के पहचान प्रमाण का उपयोग उसके निधन के लंबे समय बाद तक किया गया।

ईडी के वकील फिरोज एडुल्जी ने बताया कि मृत्युंजय चक्रवर्ती की मृत्यु 30 जनवरी, 2016 को हुई थी और 8 मार्च, 2019 को, यानी उनके निधन के तीन साल से अधिक समय के बाद, उसी बैंक खाते को जारी रखने के लिए केवाईसी के रूप में उनके पहचान पत्र जमा किए गए थे।

सौविक भट्टाचार्य और सतरूपा भट्टाचार्य के अलावा, माणिक भट्टाचार्य के भाई और दामाद के बैंक खाते भी केंद्रीय एजेंसी के रडार पर हैं और उन्हें बाद में पूछताछ के लिए भी बुलाया जा सकता है।

माणिक भट्टाचार्य फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं।

--आईएएनएस

पीके/एसकेपी